सीएम ने मंत्रियों से कहा, फिर पटरी पर लाओ काम

सीएम ने मंत्रियों से कहा, फिर पटरी पर लाओ काम

चंडीगढ़, 16 सितंबर (ट्रिन्यू)

कोरोना महामारी के कारण रुकी विकास परियोजनाएं अब फिर से स्पीड पकड़ेंगी। सरकार फिर से पटरी पर लौटेगी। सभी मंत्रियों को कहा गया है कि वे अपने-अपने विभागों से जुड़ी विकास परियोजनाओं व योजनाओं में तेजी लाएं। बुधवार को चंडीगढ़ में सीएम मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की अनौपचारिक बैठक में कोरोना से निपटने के अलावा सभी विभागों में गतिविधियां सामान्य करने को लेकर चर्चा हुई।

सीएम के कोरोना से ठीक होने के बाद उनकी मंत्रियों के साथ यह पहली बैठक थी। करीब एक महीने के अंतराल के बाद यह बैठक हुई। बैठक में केंद्र सरकार के कृषि से जुड़े तीन अध्यादेशों को लेकर किसानों के चल रहे विरोध के अलावा मंडियों में धान व बाजरे की खरीद को लेकर भी मंथन हुआ। सीएम ने मंत्रियों को कहा कि वे यह सुनिश्चित करें कि मंडियों में किसानों को किसी तरह की दिक्कत न आए।

बैठक में डिप्टी सीएम दुष्यंत सिंह चौटाला, गृह मंत्री अनिल विज, परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, सहकारिता मंत्री डॉ़ बनवारी लाल, कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल, समाज कल्याण राज्य मंत्री ओमप्रकाश यादव, महिला एवं बाल विकास मंत्री कमलेश ढांडा, पुरातत्व एवं संग्रहालय राज्य मंत्री अनूप धानक तथा खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री संदीप सिंह मौजूद रहे। शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर व बिजली मंत्री रणजीत सिंह क्वारंटाइन होने की वजह से नहीं आए।

सीएम कोरोना पॉजिटिव होने के बाद 25 अगस्त से 10 सितंबर तक गुरुग्राम के मेंदाता में दाखिल रहे। सोमवार को ही वे चंडीगढ़ लौटे और मंगलवार से ही उन्होंने बैठकों का दौर शुरू कर दिया। बुधवार को हुई बैठक में उन्होंने मंत्रियों से उनके विभागों को लेकर फीडबैक लिया। महामारी पर चर्चा के दौरान स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि जो मरीज घरों में आइसोलेट हैं, उनकी जांच के लिए डॉक्टरों को घर पर ही भेजा जाएगा। अगर किसी की हालत गंभीर है तो उसके लिए आईसीयू में बैड का प्रबंध किया जाएगा।

बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में गृह मंत्री विज ने कहा कि कई दिनों के बाद सीएम सभी मंत्रियों से मिले। अनौपचारिक बातचीत में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि सरकार पूरी तरह हर चीज के लिए सजग है। किसानों का सरकार भला चाहती है। पिपली में किसानों पर हुए लाठीचार्ज को फिर से नकारते हुए विज ने कहा कि अब इस मुद्दे पर बातचीत की कोई आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि किसानों का आंदोलन था, उन्होंने किया और उसमें कुछ हुआ नहीं।

हुड्डा को जेल जाना चाहिए : विज

पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा किसानों के लिए जेल जाने के बाद पर विज ने कहा कि हुड्डा को जेल जाना भी चाहिए। चूंकि कांग्रेस ने 70 साल में किसानों के लिए किया ही कुछ नहीं। उन्होंने कहा कि अगर हुड्डा सही में किसान हितैषी हैं तो जेल जाएं, एयर कंडीशन की राजनीति न करें।

मार्गदर्शन के लिये 21 से स्कूल आ सकेंगे छात्र

पंचकूला (ट्रिन्यू) : हरियाणा के सरकारी व प्राइवेट स्कूलों के 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थी 21 सितंबर से स्वेच्छा से अध्यापकों से परामर्श एवं मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिये माता-पिता से लिखित अनुमति लेकर स्कूल आ सकेंगे। इस संबंध में बुधवार को एक पत्र शिक्षा निदेशालय की ओर से प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों, मौलिक शिक्षा अधिकारियों व जिला परियोजना समन्वयों को भेजा गया है। 21 तारीख से शुरू हो रहे स्कूलों में एंट्री को लेकर सरकार ने गाइडलाइंस जारी की हैं। इसके अनुसार, सभी सरकारी और निजी स्कूल के अध्यापकों को पहले कोरोना टेस्ट कराना होगा। मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

आईपीएल आज से

आईपीएल आज से

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

शहर

View All