चंडीगढ़ में बुआ के लड़के ने बनाये संबंध, 16 साल की किशोरी ने यमुनानगर में दिया बच्चे को जन्म!

केस को बाल कल्याण समिति चंडीगढ़ को किया ट्रांसफर

चंडीगढ़ में बुआ के लड़के ने बनाये संबंध, 16 साल की किशोरी ने यमुनानगर में दिया बच्चे को जन्म!

प्रतीकात्मक चित्र

यमुनानगर, 9 अगस्त (हप्र) 

यमुनानगर में 16 साल की एक किशोरी की डिलीवरी हुई और उसने बच्चे को जन्म दिया। निजी अस्पताल से ये मामला चाइल्ड लाइन के संज्ञान में आया जिसके बाद चाइल्ड लाइन के सामने जो बात सामने आई उसने एक बार फिर अपनों को ही सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया। लड़की ने बताया कि उसी की बुआ के लड़के ने संबंध बनाये थे। इसके बाद नाबलिग गर्भवती हो गई। फ़िलहाल इस मामले में यमुनानगर में जीरो एफआईआर करवाई गई है। पीड़िता और उसके परिजन मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं और पिछले कुछ समय से चंडीगढ़ रह रहे थे। किसी मेड एजेंसी के जरिये ये लड़की मेड का काम करने के लिए यमुनानगर आई थी। चाइल्ड लाइन की निदेशिका डा. अंजू वाजपेयी ने बताया कि उन्हें अस्पताल से सूचना मिली थी। वह तुरंत टीम के साथ पहुंची। बच्चे की हालत गंभीर होने पर उसे सिविल अस्पताल में दाखिल कराया गया, जहां से पीजीआई रेफर कर दिया गया है। चाइल्ड लाइन ने किशोरी की काउंसलिंग की, तो पता लगा कि किशोरी व उसका परिवार 3 साल से चंडीगढ़ में रह रहा है। कोरोना महामारी के बीच लाकडाउन लग गया जिसमें परिवार के अन्य लोग लखनऊ लौट गए थे। चंडीगढ़ में किशोरी, उसकी एक बहन और बुआ का लड़का ही रह रहे थे। वहीं दोनों के बीच संबंध बने। फिलहाल चाइल्ड लाइन की टीम ने किशोरी की मां को भी बुलवाया है। अब इस केस को बाल कल्याण समिति चंडीगढ़ को ही ट्रांसफर किया गया। घटना चंडीगढ़ की है। इसलिए केस को वहीं ट्रांसफर किया जाएगा।

 

 

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

शह-मात का खेल‌‍

शह-मात का खेल‌‍

इंतजार की लहरों पर सवारी

इंतजार की लहरों पर सवारी

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

जीवन पर्यंत किसान हितों के लिए संघर्ष

जीवन पर्यंत किसान हितों के लिए संघर्ष

रिश्तों की कुंडली का दशम ग्रह दामाद

रिश्तों की कुंडली का दशम ग्रह दामाद