रोष-प्रदर्शनों के बीच करनाल में दिनभर लगा जाम, लोग परेशान

रोष-प्रदर्शनों के बीच करनाल में दिनभर लगा जाम, लोग परेशान

करनाल, 12 अक्तूबर (हप्र)

करनाल में आज रोष-प्रदर्शनों के कारण दिनभर कई इलाकों में जाम की स्थिति बनी रही और वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। कल देर शाम से अम्बेडक़र चौक पर धरना देकर बैठे वाल्मीकि समाज के लोगों ने आज दोपहर उस समय जाम हटाया, जब स्वयं पुलिस अधीक्षक गंगा राम पुनिया उनके बीच पहुंचे। नीलाखेड़ी में एक परिवार को कुचलकर फरार हुए युवक और उसके पिता की गिरफ्तारी को लेकर धरने पर बैठे लोगों ने रात भर जाम लगाये रखा। आमजन की परेशानी आज सुबह उस समय बढ़ गई, जब प्रदर्शनकारियों ने आसपास की कालोनियों के एंट्री गेट बंद करके वहां के निवासियों को भी बंधक जैसी हालत में डाल दिया।

अमन नाम के युवक द्वारा परिवार को गाड़ी द्वारा कुचले जाने से रविवार को एक महिला सहित 2 लोगों की मौत हो गई थी और 4 अन्य घायल हो गये थे। परिवार के लोग दोषियों की गिरफ्तारी, नौकरी, मुआवजे और सुरक्षा की मांग कर रहे थे। पुलिस अधीक्षक ने प्रदर्शनकारियों से चार दिन का समय मांगते हुए कहा कि वारदात में प्रयुक्त कार पानीपत से बरामद कर ली गई है और आरोपी भी जल्दी गिरफ्तार कर लिए जायेंगे। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने जाम खत्म कर दिया।

इस जाम के खत्म होने के बाद करनाल के हांसी रोड चौक से जुड़े गोगडी़पुर रोड पर सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन करते हुए जाम लगा दिया। बीती रात डिलीवरी के दौरान नवजात शिशु के गले की नस कटने और फिर उसकी मौत हो जाने से गुस्साये परिजन डाक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने और अस्पताल को सील करने की मांग कर रहे थे। परिवार के लोगों ने बताया कि कल रात वह साढ़े आठ बजे महिला को डिलीवरी के लिए अस्पताल लाये थे। रात करीब 12 बजे बच्ची के जन्म के बाद अस्पताल के संचालक नवजात को किसी अन्य अस्पताल ले गये और इसी बीच आप्रेशन करने वाले डाक्टर फरार हो गये। इसके बाद परिवार के लोग बच्ची को खुद मेडिकल कालेज लेकर गये तो डाक्टरों ने बताया कि नवजात की नस कटी हुई है। परिजनों ने बताया कि तडक़े करीब 3 बजे बच्ची की मौत हो गई और महिला की हालत गंभीर है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

सातवें साल ने थामी चाल

सातवें साल ने थामी चाल

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

शहर

View All