पर्यटन, हाउसिंग बोर्ड को घाटे से उबारने के लिए बन रही कार्ययोजना

पर्यटन, हाउसिंग बोर्ड को घाटे से उबारने के लिए बन रही कार्ययोजना

चंडीगढ़ में शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो की पहली बैठक की अध्यक्षता करते हुए।

चंडीगढ़, 21 नवंबर (ट्रिन्यू)

हरियाणा में पर्यटन निगम व हाउसिंग बोर्ड सहित आधा दर्जन से अधिक ऐसे बोर्ड-निगम हैं, जो घाटे में चल रहे हैं। सरकार ने इन बोर्ड-निगमों को घाटे से उबारने के लिए एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। अब जल्द ही इस पर अमल होगा।

शनिवार को सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो की पहली बैठक में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बोर्ड-निगमों को मुनाफे में लाने के लिए विशेष रणनीति के तहत काम करने के निर्देश दिए। सरकार ने पिछले दिनों ही भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला को सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो का चेयरमैन नियुक्त किया था। उनकी नियुक्ति के बाद ब्यूरो की यह पहली बैठक थी। बैठक में डेढ़ दर्जन से अधिक बोर्ड-निगमों के चेयरमैन मौजूद रहे। बैठक में सीएम ने कहा कि हाउसिंग बोर्ड व पर्यटन निगम सहित आधा दर्जन बोर्ड-निगमों को छोड़कर अधिकांश वित्तीय रूप से मजबूत स्थिति में हैं।

उन्होंने बैठक में बोर्ड-निगमों के चेयरमैनों को अपने-अपने बोर्ड-निगमों की हालत में सुधार के लिए विशेष कार्य योजनाएं बनाने, उन्हें सरकार के अप्रूव कराकर लागू करने तथा उनकी आय में बढ़ोतरी के निर्देश दिए। उपक्रम ब्यूरो के अधीन सभी बोर्ड एवं निगम आते हैं, जिनकी वित्तीय स्थिति का आकलन करने, उनकी कार्यप्रणाली में सुधार तथा आय बढ़ाने समेत विभिन्न स्रोत पैदा करने का अधिकार ब्यूरो के पास हैं। बैठक में बोर्ड-निगमों में नई भर्तियों की संभावनाओं पर भी विचार-विमर्श किया गया है। बोर्ड-निगमों में नौकरियों के बैकलाॅग को खत्म करने, हाउसिंग बोर्ड के मकानों को नये सिरे से नीलाम करने और नीलामी में ओपन कैटेगरी के तहत पहले आओ-पहले पाओ की नीति अपनाने का निर्णय लिया गया। हरियाणा में चार दर्जन से ज्यादा बोर्ड एवं निगम हैं, जिनमें से सरकार ने अभी डेढ़ दर्जन बोर्ड एवं निगमों के चेयरमैन बनाए हैं।

शनिवार को हुई बैठक में 19 बोर्ड एवं निगमों के चेयरमैनों ने भागीदारी की। प्रदेश सरकार जल्द ही कुछ नए चेयरमैन घोषित कर सकती है। बरोदा चुनाव का रिजल्ट यदि पार्टी के हक में आता तो अभी तक नए चेयरमैन घोषित हो चुके होते, लेकिन देरी से ही सही, मगर चेयरमैनों के नाम की घोषणा होनी है। बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में सीएम ने कहा कि हाउसिंग बोर्ड और पर्यटन निगम को घाटे से बाहर निकालने के लिए विशेष रणनीति बनाई गई है।

गठबंधन मिलकर लड़ेगा निगम चुनाव : सोनीपत, अम्बाला सिटी व पंचकूला नगर निगम के अलावा कुछ नगर परिषद व नगर पालिकाओं के चुनावों से जुड़े सवाल पर सीएम ने कहा कि भाजपा-जजपा गठबंधन चुनावों के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि निकायों के चुनाव गठबंधन मिलकर लड़ेगा। सीएम ने कहा कि जिस तरह से भाजपा ने पांच नगर निगमों में पूर्ण बहुमत के साथ जीत हासिल की थी, उसी तरह अब इन चुनाव में भी गठबंधन की जीत होगी।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

ईर्ष्या की अनदेखी कर आनंदित रहें

ईर्ष्या की अनदेखी कर आनंदित रहें

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

समाज की सोच भी बदलना जरूरी

समाज की सोच भी बदलना जरूरी