एक हजार के बदले देते थे 5 हजार के जाली नोट

एक हजार के बदले देते थे 5 हजार के जाली नोट

गुरुग्राम, 3 अगस्त (हप्र)

कलर प्रिंटर के सहारे फर्जी करेंसी नोट छापकर इन्हें मार्केट में चलाने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने इस मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से करीब 20 हजार रुपये के नकली नोट भी बरामद किए गए हैं। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

क्राइम यूनिट सेक्टर-10 के प्रभारी को सूचना मिली पालम विहार इलाके में फर्जी नोट छापने का अवैध धंधा चल रहा है। यह भी जानकारी मिली ये आरोपी नोट छापकर मार्केट में चलाते हैं। सूचना के बाद पुलिस एक टीम का गठन कर सभी पुलिसकर्मियों को छापेमारी के प्रति सचेत किया। साथ ही दो फर्जी ग्राहक बनाकर आरोपियों के पास भेजे गए। जैसे ही सौदा पूरा हुआ और फर्जी ग्राहकों को आरोपियों ने एक हजार के बदले के 5 हजार रुपये के नकली नोट थमाए तो फर्जी ग्राहकों के इशारे पर पुलिस की टीम ने तुरंत छापा मार तीन आरोपियों को काबू किया। पुलिस प्रवक्ता का कहना है कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है कि ये कब से यह फर्जीवाड़ा कर रहे हैं।

आरोपी झज्जर और सोनीपत के

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 2 कलर प्रिंटर, 2 कटर, एक स्केल, व्हाइट पेपर के साथ-साथ करीबी 20 हजार रुपये की नकली नोट बरामद किए हैं। इनकी पहचान झज्जर के गांव गौछी निवासी संजीव व रितिक के तौर पर हुई। तीसरा आरोपी भविष्य गांव माहरा जिला सोनीपत का रहने वाला है। ये सभी न्यू पालम विहार स्थित साहिब कुंज में किराये का कमरा लेकर इस फर्जीवाड़े को अंजाम दे रहे थे।

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी