दूध की खाली थैली से बना डाली अपनी नर्सरी

दूध की खाली थैली से बना डाली अपनी नर्सरी

गुरुग्राम में गुरुनानक पार्क की नर्सरी में तैयार किए गए पौधे निगम कमिश्नर व पार्षद को भेंट करते स्थानीय निवासी। -हप्र

गुरुग्राम, 30 नवंबर (हप्र)

दूध की खाली थैली और पार्क में लगे पेड़ों से तैयार बीजों को रोपकर सेक्टर 46 के निवासियों ने अपनी खुद की नर्सरी बना डाली। इस नर्सरी से हर साल सैकड़ों पौधे इसी सेक्टर व आसपास के इलाकों में लगाए जाते हैं। इसी तरह से उगाए गए 300 से ज्यादा पौधे लोगों ने नगर निगम को भेंट किए हैं।

दरअसल, नगर निगम कमिश्नर मुकेश कुमार आहूजा सेक्टर 46 का निरीक्षण करने गए थे। इस दौरान उनके साथ वार्ड 29 के पार्षद कुलदीप यादव भी थे। पार्षद ने कमिश्नर को स्थानीय दंपत्ति राधिका बजाज व अतुल बजाज के कार्य के बारे में बताया तो जिज्ञासावश कमिश्नर गुरुनानक पार्क पहुंच गए। यहां बजाज दंपत्ति ने कमिश्नर को 300 से ज्यादा ऐसे पौधे भेंट किए जिन्हें पार्क के बीजों से तैयार किया गया था। यह पार्क भी बजाज दंपत्ति ने स्थानीय निवासियों के साथ मिलकर बेहद शानदार तरीके से विकसित कर दिया। अतुल बजाज बताते हैं कि पार्क में ही होर्टिकल्चर व किचन वेस्ट से कंपोस्ट तैयार करने का संयंत्र लगाया गया है और इस क्षेत्र को जीरो वेस्ट जोन बनाने की दिशा में स्थानीय निवासी तेजी से काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि कुछ समय पहले दूध की खाली थैलियों को एकत्रित करके उसमें कंपोस्ट व मिट्टी में बीज मिलाकर उगाये गए। इसके बाद जीएमडीए की ओर से यहां पौधारोपण किया गया तो पौधों के साथ आने वाली काली पाॅलीथीन को पुनः पौधारोपण के लिए एकत्रित किया गया। उनके अनुसार काम में शुरूआती दिनों में दिक्कतें आईं क्योंकि पौधारोपण करने आने वाले कर्मचारी उन पाॅलीथीन को फैंक या फाड़ देते थे जिनमें पौध आती है लेकिन बाद में उन्हें समझा बुझाकर इन्हें एकत्रित करने की गुजारिश की। उनके अनुसार पार्क में लगे नीम, पपीता, शहतूत, आंवला व एलेस्टोनिया से नए पौधे तैयार कर सेक्टर के दूसरे हिस्सों में लगाए गए हैं। बकौल राधिका बजाज यह पूरा काम पार्क मोनू निषाद की देखरेख में किया जाता है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

मुख्य समाचार

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

मौत की सजा पर अमल में अत्यधिक विलंब के कारण हाईकोर्ट ने लिया...