किसानों का भ्रम दूर करने की पहल करे सरकार : चौ. बीरेंद्र सिंह

बोले-मुख्यमंत्री ईमानदार, अफसर सही तरीके से नहीं कर रहे काम

किसानों का भ्रम दूर करने की पहल करे सरकार : चौ. बीरेंद्र सिंह

गुरुग्राम में पत्रकारों से बात करते पूर्व मंत्री बीरेंद्र सिंह, सुमन दहिया व अन्य। -हप्र

गुरुग्राम, 24 जून (हप्र)

पूर्व केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह ने कहा कि दिल्ली बाॅर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में नेतृत्व की कमी है। इस कारण यह आंदोलन दिशाहीन होता प्रतीत हो रहा है। सरकार को किसानों के साथ वार्ता के लिए किसी मध्यस्थ की सहायता लेने की सलाह देते हुए वह बोले, ‘बातचीत के बिना समाधान नहीं है। किसान सिर्फ बातचीत चाहते हैं। उनसे संवाद किया जाना चाहिए ताकि इस विवाद का शीघ्र निपटारा हो सके।’ उन्होंने कहा कि किसानों की यह लड़ाई बेशक भ्रामक भी हो सकती है। किसानों को भ्रम और संशय है कि तीन नए कृषि कानूनों से कहीं उनकी जमीन ही न छीन ली जाए, सरकार को यह भ्रम दूर करने की पहल करनी चाहिए। हरियाणा महिला आयोग की पूर्व उपाध्यक्ष सुमन दहिया के निवास पर बीरेंद्र सिंह ने किसान आंदोलन समेत सीएम मनोहर लाल की कार्यशैली पर बेबाक टिप्पणियां कीं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ईमानदार छवि के नेता हैं लेकिन अफसरों को जिस तरह से काम करना चाहिए था वैसा हो नहीं हो पा रहा।

पंजाब में विधानसभा चुनावों बारे उन्होंने कहा कि किसानों में किसी भी पार्टी को शिकस्त देने की हिम्मत है। किसान आंदोलन पंजाब से ही पैदा हुआ था और वहां अभी तक कोई भी राजनीतिक दल जनता में विश्वास पैदा नहीं कर पाया है। इसलिए यह संभव है कि वहां किसान ही अपनी पार्टी बनाकर चुनाव लड़ें और सारी पार्टियों का सफाया कर दें। इस अवसर पर प्राची खुराना, आशा चांदना, सुनीता यादव, राजबाला श्योराण मौजूद रहे। 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

शहर

View All