फर्रूखनगर निगम सीमा के विस्तार का विरोध

फर्रूखनगर निगम सीमा के विस्तार का विरोध

गुरुग्राम, 10 अगस्त (हप्र)

गुरुग्राम नगर निगम के प्रस्तावित सीमा विस्तार का अब फर्रूखनगर क्षेत्र के ग्रामीणों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। ग्रामीणों का कहना है कि निगम सीमा में पहले से शामिल गांवों की तरह अपने गांवों में स्लम नहीं बनने देंगे। निगम के प्रस्ताव के विरोध में 14 अगस्त को एक प्रतिनिधि मंडल डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला से मुलाकात करेगा। इस मामले को लेकर एक बैठक का आयोजन फर्रूखनगर क्षेत्र में किया गया। बैठक में मौजूद वक्ताओं ने इस बात पर आपत्ति जताई कि बिना किसी प्रस्ताव या ग्राम पंचायत की सहमति के निगम जबरन अतिक्रमण करके सीमा विस्तार करने का प्रयास कर रहा है। फर्रूखनगर क्षेत्र के जिन चार गांवों कासन, ढाणा, बांस कुसला, बांस हरिया को निगम क्षेत्र में शामिल करने के प्रयास किए जा रहे हैं वहां की पंचायतें अपने गांवों में अच्छा कार्य कर रही हैं और ये गांव खूब खुशहाल हैं। समुंद्र सिंह धनखड़ के अनुसार नगर निगम क्षेत्र में पहले से शामिल गांवों की दशा बेहद दयनीय है।पूर्व कैप्टन प्रेमपाल कासन, रमेश प्रधान, सत्यदेव शर्मा सरपंच, प्रहलाद पूर्व सरपंच बांस कुसला, धर्मपाल सरपंच, गब्बू सरपंच, मूलचंद पूर्व सरपंच, प्रवीण सरपंच ढाणा, पूर्व सरपंच हरिप्रकाश शर्मा, तेजू ठेकेदार व रामपाल ढ़ाणा ने कहा कि 15 जुलाई को ग्रामीणों ने बैठक करके सर्वसम्मति से निगम में शामिल किए जाने का विरोध जताया था। अब इस मांग को लेकर 14 अगस्त को एक प्रतिनिधि मंडल उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला से मुलाकात करेगा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी