आढ़तियों के धरने में नहीं पहुंचे किसान

आढ़तियों के धरने में नहीं पहुंचे किसान

गुरुग्राम (हप्र) : केंद्र के कृषि अध्यादेशों के खिलाफ किसान संगठनों के प्रस्तावित विरोध प्रदर्शन का यहां कोई विरोध दृष्टिगोचर नहीं हुआ।

हेलीमंडी व सोहना में कुछ आढ़तियों ने ही किसानों के समर्थन में धरना दिया लेकिन इनके धरने से किसानों ने दूरी बनाए रखी। इस दौरान झाड़सा गांव के एक युवक की फेसबुक पोस्ट ने दिनभर पुलिसकर्मियों को छकाया। सोहना अनाज मंडी में लाइसेंस धारक 22 आढ़तियों ने रविवार को केंद्र सरकार के कृषि संबंधी अध्यादेशों के प्रति विरोध जताते हुए अपनी दुकानें बंद रखी। आढ़तियों ने प्रदर्शन का समर्थन करते हुए कोई कामकाज नहीं किया। ये आढ़त पर ही धरने पर बैठे।

आढ़त एसोसिएशन के प्रधान महेश आर्य ने बताया कि केंद्र व राज्य सरकार उनके कारोबार को पूर्णरुप से ठप करना चाहती है।

नूंह में नहीं हुआ चक्का जाम

नूंह/मेवात (निस) : भारतीय किसान यूनियन व अन्य किसान संगठनों की ओर से नायब तहसीलदार नूंह अख्तर हुसैन को ज्ञापन सौंपा गया। जिला में चक्का जाम की घोषणा की हुई थी लेकिन जिला में कोई चक्का जाम नहीं रहा और वाहन रोजमर्रा की तरह चल रहे थे। रोड़ जाम को लेकर लोगों में दहशत थी, लेकिन अवकाश के चलते अन्य दिनों की अपेक्षा वाहन कम ही चले। जिला उपायुक्त धीरेंद्र खडगटा ने सभी तहसीलों में डयूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए हुए थे। किसान संगठन से जुड़े आजाद मोहम्मद, रमजान खान, अब्बास, साहबूदीन,अरसद नीमका, अरसद टाई आदि भी मौजूद रहे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

शहर

View All