नशा खरीदने के लिए नहीं दिये पैसे

कैंची घोंपकर 75 वर्षीय पिता की हत्या

कैंची घोंपकर 75 वर्षीय पिता की हत्या

गुरुग्राम, 1 दिसंबर (हप्र)

नशे खरीदने के लिए पैसे नहीं देने पर एक युवक ने गुस्से में आकर अपने पिता की गर्दन में कैंची के कई वारकर हत्या कर दी और भाग गया।  फरार आरोपी को पुलिस ने चंद घंटों बाद ही काबू कर लिया। अर्जुन नगर निवासी अजय कुमार ने पुलिस को बताया कि मंगलवार शाम वह अपनी ससुराल पुन्हाना गया था। इसी दौरान पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति ने फोन करके छोटे भाई नीरज द्वारा पिता किशनचंद डुटेजा से झगड़ा करने की बात कही। जब वह घर पहुंचा तो उसके पिता किशनचंद डुटेजा (75) खून से लथपथ मृत पड़े थे और उनकी जेब कटी हुई थी। उसने शक जताया कि उसके पिता की हत्या उसके छोटे भाई नीरज (37) ने की है। वह नशे और जुआ खेलने का आदि है। न्यू काॅलोनी थाने एसएचओ राजेश के नेतृत्व वाली टीम ने नीरज को खांडसा मंडी से काबू कर लिया। उसने पुलिस के समक्ष स्वीकार किया कि मंगलवार रात को उसने पिता से नशा खरीदने के लिए पैसे मांगे तो उन्होंने अपने पास पैसे होने से इंकार कर दिया। इस कारण उसने कैंची मारकर उनकी जेब में रखे पैसे निकाल लिए। पुलिस ने खून से सनी वह कैंची भी बरामद कर ली जिससे आरोपी ने वारदात को अंजाम दिया। उसने कैंची से अपने पिता की गर्दन पर कई वार किए जिससे वह बेसुध होकर गिर गए और ज्यादा खून बहने के कारण उनकी मौत हो गई।

''गिरफ्तार आरोपी मृतक का छोटा बेटा है। नशा खरीदने के लिए पिता की हत्या करने की बात स्वीकार की है।''  

-प्रीतपाल सिंह, एसीपी-क्राइम

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

मुख्य समाचार

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

मौत की सजा पर अमल में अत्यधिक विलंब के कारण हाईकोर्ट ने लिया...