गुरुग्राम 24 घंटे में 421 और संक्रमित, 2 मौत

गुरुग्राम 24 घंटे में 421 और संक्रमित, 2 मौत

गुरुग्राम, 16 सितंबर (हप्र)

पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 421 और नये मामले सामने आये, यह संख्या अब तक एक दिन में मिलने वाले संक्रमितों में सबसे अधिक है। इसके साथ ही महामारी से ग्रस्त 2 और लोगों की मौत हो गई। अब जिले में संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 2,654 हो गई है।

इसके साथ ही कोरोना महामारी का प्रकोप अपने चरम की ओर बढ़ रहा है। बुधवार को 421 नये मामले सामने आए हैं। इसके साथ इलाज करवा रहे 204 लोगों ने संक्रमण को मात दे दी, जिसके बाद इन्हें महामारी से मुक्त घोषित कर दिया गया। दो और लोगों की मौत के साथ मरने वालों का आंकड़ा 153 हो गया है। फिलहाल 3,250 सैंपलों की रिपोर्ट का इंतजार है। अभी तक 2 लाख से अधिक लोगों के सैंपल एकत्रित किए गए हैं। इसमें से 1 लाख 76 हजार 524 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव मिली। जबकि 16, 330 लोगों को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। बुधवार को सबसे ज्यादा 94 केस नगर निगम के जोन चार में पाए गए। जबकि जोन एक में 85, जोन दो में 93, जोन तीन में 86, पटौदी व सोहना ब्लाॅक में 30-30 और फर्रूखनगर ब्लाॅक में सिर्फ 3 लोगों को संक्रमण की पुष्टि हुई है।

नूंह में 10 और मरीज मिले 

नूंह/मेवात (निस) : जिले में कोरोना के मामले थम नहीं रहे हैं और बुधवार को एक साथ 10 नये मरीज सामने आने से संक्रमितों का कुल आंकड़ा 997 हो गया है, जबकि 840 मरीज ठीक हो गये हैं। जिले में अब तक 509 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 997 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं जिनमें से 840 मरीज डिस्चार्ज हो गए हैं। बुधवार को सबरस में एक, जयसिंहपुर में एक, नूंह में 2, सिकरावा में एक, रामपुर आटा में 2, तावडू में 2, छपेड़ा में एक नया मामला सामने आया है। इस बारे में सीएमओ नूंह डॉ़ कृष्ण कुमार ने माना कि बुधवार को 10 नये संक्रमित केस सामने आये हैं। इसके साथ जिले में संक्रमितों की कुल संख्या 997 हो गई है तथा इनमें से 840  मरीज डिस्चार्ज हो गए हैं। उधर, तावड़ू तहसील में चले सैंपल लेने के अभियान के दौरान सरल केंद्र का एक ऑपरेटर संक्रमित पाया गया। जिसके चलते सरल केन्द्र 3 दिन के लिए बंद कर दिया गया है। कार्यवाहक तहसीलदार मनमोहन वर्मा ने कहा कि सरल केंद्र का एक कर्मी संक्रमित मिला है, जिससे वहां का कामकाज 3 दिन के लिए बंद कर दिया गया है। 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

शहर

View All