खूब फबेगी हरियाली, इन पौधों की बात निराली

घर में लगाएं ज्यादा आक्सीजन देने वाले प्लांट

खूब फबेगी हरियाली, इन पौधों की बात निराली

रजनी अरोड़ा

कोरोना महामारी की खौफनाक लहर के बीच पिछले दिनों ऑक्सीजन की मारामारी की तस्वीरों से हम सब रू-ब-रू हुए हैं। आक्सीजन की कमी से कई लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। बेशक शरीर में ऑक्सीजन लेवल का मामला चिकित्सकीय प्रणाली का हिस्सा है। बीमारी से लड़ने के लिए हमें अपना इम्यून सिस्टम भी दुरुस्त रखना होता है। कितना अच्छा हो अगर हम अपने घर और आसपास का आक्सीजन लेवल बढ़ा दें। आंगन हरा-भरा होगा और ऑक्सीन से भी भरपूर। तो क्यों न प्रकृति में मौजूद ज्यादा आॅक्सीजन देने वाले पौधों को घर की बगिया या इंटीरियर डेकोरेशन का हिस्सा बनाएं। वैसे इन पौधों को लगाने का इन दिनों ट्रेंड भी चल पड़ा है और इसे बरकरार रखना चाहिए। इन पौधों को लगाकर नेचुरली वैज्ञानिक तरीके से हम अपने घर की एयर क्वालिटी और आक्सीजन लेवल को इम्प्रूव कर सकते हैं...

आप भी अपने घर के इनर एन्वायरन्मेंट का आॅक्सीजन लेवल बढ़ाना चाहते होंगे। परिवार के सदस्यों को नेचुरल आक्सीजन देना कौन नहीं चाहेगा। तो इसके लिए ज़रूरी है अपने घर में ज्यादा आक्सीजन-जनरेटेड पौधे लगाएं। ये पौधे न केवल आसानी से मिल जाते हैं, बल्कि इन्हें घर-बाहर आसानी से लगाया जा सकता है। साथ ही ये पौधे घर के इंटीरियर में चार चांद तो लगाते ही हैं, एयर प्यूरीफायर का काम भी बखूबी करते हैं। इन पौधों की देखरेख ज्यादा न करना इनकी खासियत होती है। साल में एकाध बार खाद डालना ही काफी होता है। ज्यादा धूप, खाद और पानी के बिना भी ये पौधे सालोंसाल आपका साथ निभाते र्हैं। हम पूरे वातावरण की आक्सीजन लेवल तो नहीं बढ़ा सकते, लेकिन अपने घर में ये पौधें लगाकर अपने आसपास आक्सीजन लेवल जरूर बढ़ा सकते हैं। वास्तु शास्त्री तो कहते हैं कि इन इंडोर प्लांट्स को घर में रखने से सुख-समृद्धि आती है। तो आइये ऐसे ही कुछ पौधों की यहां चर्चा करते हैं-

स्नैक प्लांट- इसे मदर इन लाॅ टंग प्लांट भी कहा जाता है। नासा की रिसर्च में पाया गया है कि यह पौधा रात को भी आक्सीजन देता है। यह घर में हवा को तो शुद्ध करता ही है, गर्मियों में घर के तापमान को कम करने में भी मदद करता है। स्नैक प्लांट को ज्यादा देखभाल की ज़रूरत नहीं होती। स्नैक प्लांट को आप मिट्टी, सेरेमिक, प्लास्टिक के गमले में तो लगा ही सकते है, इंडोर प्लांट के रूप में कांच के वास में भी आसानी से लगाया जा सकता है। आप इसे कटिंग से भी लगा सकते हैं। 15 दिन में एक बार थोड़ा सा पानी दें और 2 महीने में एक बार धूप में रखना फायदेमंद हैै। पौधे पर पानी का स्प्रे करते रहना चाहिए ताकि इसमें माॅइश्चर या ह्यूमिडिटी लेवल मेंटेन रहे और पत्ते हरे रहें।

एरिका पाम- इसे लविंग रूम प्लांट भी कहा जाता है। इसे आप ड्राइंग रूम, अंदर आने वाले दरवाजे के पास, बेड रूम में कहीं भी लगा सकते हैं। बेस्ट जगह ड्राइंग रूम है। इसे यहां रखना बेस्ट आप्शन है। एरिका पाम आपके घर में आक्सीजन से भरी हवा संचारित करने में मदद करता है। आप जगह के हिसाब से इंडोर प्लांट के रूप में 3-4 फुट लंबे एरिका पाम के पौधे लगा सकते हैं। इस पौधे की ज्यादा देखरेख की भी जरूरत नहीं पड़ती। सप्ताह में एक या दो बार थोड़ा-थोड़ा पानी देना पड़ता है और महीने में एक बार धूप में रखें।

टेबल या मिनिएचर पाम - एरिका पाम से मिलती-जुलती वैराइटी है जो आकार में उससे काफी छोटी होती है। इस पौधे कोे वर्किंग या स्टडी टेबल पर रखा जा सकता है। टेबल पाम घर के अंदर फ्रेश हवा सर्कुलेट करता है और बहुत ज्यादा आक्सीजन देता है।

तुलसी - आध्यात्मिक दृष्टि से घर के आंगन में तुलसी का पौधा ज़रूर लगाया जाता है और पूजा की जाती है। यह पौधा आपको 24 घंटे आक्सीजन देता है। हवा में मौजूद विषैले पदार्थों को अवशोषित कर हवा को शुद्ध करता है। वायरल इंफेक्शन होने पर इसका काढ़ा पीना फायदेमंद होता है। राम-श्याम तुलसी के पौधे आप गमले में आसानी से लगा सकते हैं। इस पौधे को आप हल्की धूप में रख सकते हैं।

मनी प्लांट- वास्तु शास्त्र के हिसाब से यह पौधा बहुत शुभ है और इसे लगाने से घर में समृद्धि आती है। यह प्लांट अमूमन हर घर में मिलता है। इसे घर-बाहर कहीं भी रखा जा सकता है। आक्सीजन देने के साथ-साथ मनी प्लांट की पत्तियां विषाक्त पदार्थों को सोख कर घर की हवा को शुद्ध करता है। मनी प्लांट को आप किसी गमले में मिट्टी में या फिर कांच-मैटल के वास में पानी में भी लगा सके हैं। सप्ताह में 2 बार थोड़ा-थोड़ा पानी देना चाहिए। महीने में 2 बार धूप में रखना चाहिए।

स्पाइडर प्लांट- आक्सीजन देने वाले पौधों में स्पाइडर प्लांट भी एक है। अगर आपके घर में धूप ज्यादा नहीं आती, तो भी यह आसानी से लग सकता है। आप इसे ब्राइट लाइट में घर के अंदर भी लगा सकते हैं। इसकी कई वैराइटियां आती हैं जो आपके घर की शोभा भी बढ़ाते हैं। इसके ट्यूबर्स या रनर्स से इन्हें आसानी से उगाया जा सकता है। गमले के साथ-साथ आप इसे हैंगिंग बास्केट में भी लगा सकते हैं। स्पाइडर प्लांट को कम लाइट में रखा जाता है और मिट्टी सूखने पर ही पानी दिया जाता है। इसकी जड़ें ट्यूबरस होती हैं और अपने अंदर पानी को स्टोर करके रखती हैं। जिससे पौधे में ज्यादा पानी की ज़रूरत नहीं होती।

लकी बैम्बू प्लांट - यह पौधा आपको पूरा दिन आक्सीजन देता है और हवा को शुद्ध करता है। लकी बैम्बू को आर्टिफिशियल लाइट के नीचे आप घर में आसानी से उगा सकते हैं। कांच के वास के अंदर पानी में आसानी से लग जाता है। इसे मिट्टी में भी लगाया जा सकता है। पानी में इसकी ग्रोथ थोड़ी धीरे होती है।

पीस लिली- यह सफेद फूलों और गहरे हरे रंग की बड़ी पत्तियों वाला पौधा है। यह पौधा न केवल इंटीरियर को सुंदर बनाता है, बल्कि आसपास पाॅजीटिव एनवायरमेंट बना रहता है। और आपका दिमाग अच्छी तरह काम करेगा। इस प्लांट के साथ फ्रेशनेस बढ़ेगी।

ऐलोवरा - यह आयुर्वेदिक औषधीय पौधा है। यह 24 घंटे आॅक्सीजन देता है और आपको रिफ्रेश करने वाला पौधा भी है। आप इसे अपने आंगन में या खिड़की पर इंडोर प्लांट के रूप में घर के भीतर किसी भी गमले में लगा सकते हैं।

बोनसाई प्लांट्स- पीपल, बरगद, नीम जैसे पौधों के बोनसाई आप अपने घर में लगा सकते हैं जो 24 घंटे आक्सीजन देतेे हैं। वैसे ये प्लांट असल में बड़े पेड़ होते हैं जिसे आप बड़े बगीचे या खुली जगह में लगा सकते है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

मुख्य समाचार

गांवों में दी गयी 64% खुराकें

गांवों में दी गयी 64% खुराकें

कोरोना 21 जून की ‘ऐतिहासिक उपलब्धि’/ 89.09 लाख टीके लगे

केंद्र की सर्वदलीय बैठक में शामिल होंगे गुपकार नेता

केंद्र की सर्वदलीय बैठक में शामिल होंगे गुपकार नेता

पीएजीडी की बैठक के बाद फारूक की घोषणा

सरकार के कोविड प्रबंधन पर कांग्रेस का ‘श्वेत पत्र’

सरकार के कोविड प्रबंधन पर कांग्रेस का ‘श्वेत पत्र’

केंद्र सरकार की ‘गलतियों और कुप्रबंधन’ का उल्लेख

पवार के घर जुटे विपक्षी नेता

पवार के घर जुटे विपक्षी नेता

टीएमसी, सपा, आप और रालोद सहित कई पार्टियां शामिल