घर में वार्डरोब से करें नयी शुरुआत : The Dainik Tribune

साज-संभाल

घर में वार्डरोब से करें नयी शुरुआत

घर में वार्डरोब से करें नयी शुरुआत

निधि गोयल

नया साल आरम्भ हुए कुछ समय ही हुआ है और सभी ने नए साल में कुछ न कुछ नया करने के बारे में विचार किया है। लेकिन क्या आपने घर में लगी वार्डरोब के बारे में सोचा है कि उसमें बहुत सा सामान ऐसा है जो अब इस्तेमाल में नहीं आएगा। यह जानते हुए भी आपने उन चीजों को वार्डरोब में शामिल कर रखा है। तो वक्त आ गया है कि नये साल के पहले महीने में सामान को सही ढंग से लगाया जाए और पुरानी चीजों को निकाल दिया जाये। तो जानिए कैसे आप अपने वार्डरोब को सही से लगा कर रख सकती हैं :

पुरानी साड़ी और दुपट्टे

यदि अलमारी को सुव्यवस्थित रखना है तो जरूरी है कि पुराने कपड़ों पर ध्यान दिया जाये। अगर आपकी पुरानी साड़ी और दुपट्टे हैं जो अभी इस्तेमाल में नहीं आ रहे हैं, आप उन्हें वार्डरोब से बाहर निकालें। यदि आप इन कपड़ों को किसी को नहीं दे सकती हैं और इनके रंग और प्रिंट्स अच्छे हैं तो इनके सूट और ड्रेस बनवाने बेहतर होंगे। इससे आपका वार्डरोब भी संभल जाएगा और नए कपड़े भी तैयार हो जाएंगे।

कवर का इस्तेमाल

ज्यादातर महिलाओं की अलमारी बिखरी हुई नजर आती है। आप इन हालात से बचने के लिए अलमारी में कपड़ों को रखने के लिए कवर का इस्तेमाल करें। आजकल हर चीज के कवर आ रहे हैं। जैसे साड़ी, सूट और ड्रेस के कवर। ये कवर बेहद सुंदर दिखते हैं, साथ ही इनमें कपड़े रखने से आपकी अलमारी सिमटी हुई भी नजर आती है। आप अपने सूट्स या टॉप सभी को अलग-अलग बांटकर कवर में लगाकर सही तरीके से अलमारी में लगाएं।

हैंगर भी काम के

आजकल ऑनलाइन हैंगर खूब दिखते हैं, नेट पर कुछ सर्च करने के दौरान आपने भी देखा होगा। इन हैंगर को मंगवाकर आप अपने स्कार्फ और दुपट्टों को टांग सकती हैं जिससे वे इधर उधर-बिखरे हुए नजर नहीं आएंगे। और कई बार ऐसा होता है कि आप मैचिंग के स्कार्फ या दुपट्टे पहनना चाहती हैं तो वो भी आपको आसानी से मिल जाएंगे। हैंगर में बहुत सारी वैरायटी आती है। आप अपनी अलमारी में स्पेस देखकर हैंगर खरीदिये व स्कार्फ-दुपट्टों आदि को इसमें टांगिये।

अखबार या शीट्स

अलमारी में सीधे कोई भी सामान न रखें। इसके लिए जरूरी है कि आप अखबार या शीट्स को कट करके अलमारी में बिछाएं। इससे आपकी अलमारी की रौनक देखते हुए बनती है। आजकल शीट्स में भी बहुत सारे प्रिंट्स आते हैं। आप थोड़े गहरे रंग की शीट्स लगाएं जो बार-बार गंदी न हों। यदि अलमारी से मैचिंग की शीट्स लगाएंगे तो वह और आकर्षक नजर आएगी।

जगह हो सुनिश्चित

हर चीज की जगह सुनिश्चित करें जिससे अलमारी सही ढंग से लगी हुई नजर आए। इससे एक पैटर्न बनेगा। दरअसल, अलमारी में ‘कहीं भी कुछ भी’ सामान रखने से अलमारी बिखरी हुई नजर आती है। कपड़ों की अपनी जगह हो तथा ज्यूलरी की आइटम अपनी जगह पर होनी चाहिए।

दराजों का फायदा

अलमारी में छोटा-मोटा सामान दराजों में रखें जो जरूरत पड़ने पर जल्दी से मिल जाए। जैसे रूमाल, दस्ताने, कैप, जुराबें आदि के लिए दराजों का इस्तेमाल करें। उनमें अलग-अलग करके सामान रखें। बेल्ट के लिए दरवाजे में अंदर की साइड हैंगिंग स्टैंड लगवा लें जिससे आपको आसानी से बैल्ट मिल सके। इससे बेल्ट खराब भी नहीं होंगी क्योंकि बेल्ट को मोड़कर अलमारी में रखने से वे खराब हो जाती हैं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

ओटीटी पर सेनानियों की कहानियां भी

ओटीटी पर सेनानियों की कहानियां भी

रुपहले पर्दे पर तनीषा की दस्तक

रुपहले पर्दे पर तनीषा की दस्तक

पंजाबी फिल्मों ने दी हुनर को रवानगी

पंजाबी फिल्मों ने दी हुनर को रवानगी

आस्था व प्रकृति के वैभव का पर्व

आस्था व प्रकृति के वैभव का पर्व

मुख्य समाचार