वन्य जीवों के हमले में मरने वालों को मिलेगा 5 लाख का मुआवज़ा

वन्य जीवों के हमले में मरने वालों को मिलेगा 5 लाख का मुआवज़ा

चंडीगढ़,12 अगस्त (ट्रिन्यू)

चंडीगढ़ प्रशासन ने वन्य जीवों के हमलों से मरने वाले अथवा अपंग होने वाले लोगों के परिवारों को 5 लाख रुपये का मुआवज़ा देने का निर्णय लिया है व इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गई है। इसमें बंदर और सांप भी शामिल हैं। प्रमुख सचिव वन अरुण कुमार गुप्ता द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार प्रशासन मृत्यु या स्थायी अक्षमता के लिए 5 लाख रुपये, गंभीर चोट के लिए 2 लाख रुपये और मामूली चोट के लिए प्रति व्यक्ति 25,000 रुपये इलाज का खर्च देगा। मुख्य वन संरक्षक देवेंद्र दलाई ने कहा कि मानव-वन्यजीव संघर्ष के तहत मुआवजे से संबंधित नियम पहले से ही चंडीगढ़ में थे, लेकिन इसे पहली बार अधिसूचित किया गया है। अधिसूचना पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों के आधार पर जारी की गई है। उन्होंने कहा कि हाल ही में, विशेष रूप से तालाबंदी के दौरान, शहर के आवासीय क्षेत्रों में तेंदुए और सांभर सहित कई वन्यजीवों को देखा गया था। इस साल जुलाई में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से पीड़ितों को मुआवजा शीघ्र देने को कहा था। गत 10 जुलाई को मुख्य सचिवों को एक नटिस भेजा गया था जिसमें राज्यों को घटना के 24 घंटे के भीतर पीड़ितों या पीड़ितों के परिजनों को पूर्व-अनुदान राशि का कम से कम 25 प्रतिशत भुगतान करने के लिए कहा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

आईपीएल आज से

आईपीएल आज से

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

मुख्य समाचार

बिहार को चुनावी सौगात, मोदी ने रखीं 14 हज़ार करोड़ रुपये की राजमार्ग परियोजनाओं की आधारशिला!

बिहार को चुनावी सौगात, मोदी ने रखीं 14 हज़ार करोड़ रुपये की राजमार्ग परियोजनाओं की आधारशिला!

राज्य के सभी गांवों को इंटरनेट से जोड़ने के लिए ऑप्टिकल फाइबर...

महाराष्ट्र के भिवंडी में 3 मंजिला इमारत ढही, 7 बच्चों सहित 10 की मौत!

महाराष्ट्र के भिवंडी में 3 मंजिला इमारत ढही, 7 बच्चों सहित 10 की मौत!

4 वर्षीय बच्चे सहित 11 लोगों को मलबे से निकाला गया

शहर

View All