आत्महत्या करने वाले युवक को था कोरोना

चंडीगढ़ में 81 हुए संक्रमण का शिकार

आत्महत्या करने वाले युवक को था कोरोना

चंडीगढ़/पंचकूला, 12 अगस्त (नस)

दो दिन पहले चंडीगढ़ के सेक्टर 21 में फंदा लगाकर आत्महत्या करने वाला 34 साल का युवक कोरोना संक्रमित पाया गया। हालांकि युवक ने विवाहिक विवाद से परेशान होकर यह कदम उठाया था। उधर, बुधवार को शहर में कोरोना वायरस के 81 नये मामले सामने आये। अब तक शहर में 1751 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 700 एक्टिव केस हैं। शहर में 26 संक्रमितों की जान जा चुकी है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक आत्महत्या करने वाले युवक की पहचान सुनाम पंजाब के रहने वाले जितेन्द्र के रूप में हुई। वह सेक्टर 21 में किराये के मकान में रहता था। वह पेशे से फोटोग्राफर था और सेक्टर 22 में फोटोग्राफी की लैब में नौकरी करता था। एसएचओ के मुताबिक युवक की कुछ साल पहले शादी हुई थी। जितेन्द्र का एक 4 वर्ष का बच्चा है। पत्नी के साथ विवाहिक विवाद होने के कारण दोनों में अलगाव हो चुका था। सोमवार को जितेन्द्र ने अपने मकान में पीछे कमरे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस की छानबीन में कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ। सेक्टर 16 में जब युवक के कोविड-19 के सैंपल लेकर जांच की गई तब वह पॉजिटिव पाया गया।

संक्रमितों से घिरा चंडीगढ़

चंडीगढ़ में आज 10 महीने के एक बच्चे समेत शहर में 81 संक्रमितों के मामले सामने आये। हल्लोमाजरा में सामने आये संक्रमित के परिवार में 13 और 10 माह के दो बच्चे संक्रमित पाये गये। रामदरबार में परिवार कह 3 महिलाएं और पुरुष संक्रमित पाए गए। पीजीआई निवासी 28 साल की महिला, सेक्टर 29 निवासी इंटेलिजेंस विभाग का कर्मचारी संक्रमित मिलने के बाद परिवार में 62 साल के बुजुर्ग, मनीमाजरा स्थित बीएसएनएल की संक्रमित कर्मचारी के घर में 43 वर्षीय महिला, जीएमसीएच-32 के 32 वर्षीय कर्मचारी, सेक्टर 20, 47, डड्डूमाजरा, सेक्टर 15, बुड़ैल में परिवार की तीन महिलाएं, सेक्टर 45, पीजीआई में एक एक संक्रमित, सेक्टर 44, 49, 5, रामदरबार, 35, 30 मनीमाजरा, मौली जागरां, सेक्टर 21, रायपुर खुर्द, सेक्टर 20, 32, 19, 16, 45, 21, 28, 44, मनीमाजरा में संक्रमित पाए गए। सेक्टर 15 में परिवार में 4 पुरुष, सेक्टर 37, 7, 27 और सेक्टर 20 में संक्रमित पाए गए। डड्डूमाजरा में परिवार में 2, सेक्टर 21 और 43 में 2 पुरुष संक्रमित मिले। उधर, 8 पेशेंट को सूद धर्मशाला, धन्वंतरि अस्पताल और जीएमएसएच-16 में से 8 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

मुख्य समाचार

वीआरएस के बाद बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की चुनाव लड़ने की अटकलें, फिलहाल किया इनकार!

वीआरएस के बाद बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की चुनाव लड़ने की अटकलें, फिलहाल किया इनकार!

कहा- बिहार की अस्मिता और सुशांत को न्याय दिलाने के लिए लड़ी ...