गांवों की जमीन को आबादी देह माना जाये

गांवों की जमीन को आबादी देह माना जाये

चंडीगढ़ में शनिवार को गांववासियों का एक प्रतिनिधिमंडल पूर्व सांसद सत्यपाल जैन को अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपते हुए। -दैनिक ट्रिब्यून

चंडीगढ़, 1 अगस्त (ट्रिन्यू)

चंडीगढ़ के विभिन्न गांवों के निवासियों एवं जमींदारों के प्रतिनिधिमंडल ने आज चंडीगढ़ के पूर्व सांसद और भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति के सदस्य सत्यपाल जैन से भेंट की तथा उन्हें अपनी मांगों का ज्ञापन दिया।

गांव वालों ने मांग की कि जमींदारों की जमीन अधिग्रहण के लिये उचित मुआवजा देने वाला 2013 का कानून पूरी तरह से चंडीगढ़ में लागू किया जाये, चंडीगढ़ में बातचीत के माध्यम से मुआवजा देने की नीति को रद्द किया जाये, गांवों में अधिग्रहण की जा रही जमीन का मुआवजा ग्रामीण के बजाय शहर की जमीन के अनुरूप दिया जाये, उन्हें अपनी जमीन के इस्तेमाल में परिवर्तन करने की अनुमति दी जाये ताकि वह अपनी जमीन का उचित उपयोग कर सके, 13 गांवों की जमीनों को ‘कैपिटल आफ पंजाब एक्ट 1952’ के तहत आबादी की देह माना जाये।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

किसान के बेटे की प्रेरणादायी कामयाबी

किसान के बेटे की प्रेरणादायी कामयाबी

संसदीय लोकतंत्र की गरिमा का प्रश्न

संसदीय लोकतंत्र की गरिमा का प्रश्न

मुख्य समाचार

ठीक होने वालों की दर 68.32%

ठीक होने वालों की दर 68.32%

देश में कोरोना मामले 20.88 लाख के पार। एक दिन में 61537 नये ...

ब्लैक बॉक्स मिला, जांच शुरू

ब्लैक बॉक्स मिला, जांच शुरू

कोझिकोड विमान हादसा : मृतक संख्या हुई 18, एक यात्री को था को...

भाजपा के कुछ विधायक ‘तीर्थाटन’ पर गये गुजरात

भाजपा के कुछ विधायक ‘तीर्थाटन’ पर गये गुजरात

‘बाड़ेबंदी’ करने जैसी स्थिति से पार्टी का इनकार, कहा- कांग्र...