बलटाना में प्रवासी महिला की गला रेत कर हत्या : The Dainik Tribune

बलटाना में प्रवासी महिला की गला रेत कर हत्या

आरोपी बच्चों समेत फरार, मोबाइल भी आ रहे हैं स्विच ऑफ

बलटाना में प्रवासी महिला की गला रेत कर हत्या

जीरकपुर, 24 नवंबर (हप्र)

बलटाना की एकता विहार कालोनी में एक प्रवासी महिला की गला रेत कर बेहरमी से हत्या होने का मामला प्रकाश में आया है। जीरकपुर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए डेराबस्सी के सरकारी अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया है।

वारदात बृहस्पतिवार को बलटाना की एकता विहार कॉलोनी में शाम को करीब करीब पांच बजे हुई जिसमें एक 35 वर्षीय प्रवासी महिला की हत्या कर दी गयी।

मृतका के पति व सास का आरोप है कि महिला की हत्या के लिए उनका पड़ोसी ही जिम्मेदार है, जो कि घटना के समय के बाद ही अपने परिवार के साथ फरार हो गया। पुलिस ने बताया कि एकता विहार कॉलोनी के मकान नंबर 1-ए में बहादुर अपनी पत्नी गायत्री व मां राजेश्वरी के साथ रहता है और फर्नीचर मार्केट में काम करता है। मृतका की सास राजेश्वरी देवी ने पुलिस को बताया कि वह आज करीब साढ़े चार बजे अपनी बहू गायत्री को घर छोड़कर अपने काम पर चली गई।

इसी बीच उनके बेटे बहादुर ने उन्हें फोन कर बताया कि उनकी पत्नी गायत्री काफी समय से फोन नहीं उठा रही है। जब वह अपने घर आई तो उसका कमरा बाहर से बंद था। जब उन्होंने अपने कमरे का ताला तोड़ा तो अंदर गायत्री की लाश पड़ी थी और किसी ने उसकी गला रेत कर हत्या कर दी थी।

मामले की जानकारी मिलने पर जीरकपुर डीएसपी विक्रमजीत सिंह बराड़, एसएचओ दीपिंदर सिंह बराड़ और बलटाना चौकी इंचार्ज मनदीप सिंह ने मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन शुरू की। इस बीच मृतका के पति बहादुर ने पुलिस को अपना शक जाहिर करते बताया कि उसके कमरे के बगल में किराए पर रह रहे पवन पर अपनी पत्नी की हत्या का आरोप लगाया।

बताया जा रहा है कि घटना के करीब पंद्रह मिनट बाद ही पवन अपनी पत्नी सलोनी और अपनी चार महीने की बेटी को लेकर फरार हो गया और उसके मोबाइल भी स्विच ऑफ जा रहे हैं। फिलहाल पुलिस टीम पवन की तलाश कर रही है।

डीएसपी विक्रमजीत सिंह बराड़ ने बताया कि पुलिस ने फॉरेंसिक टीम को मौके पर बुलाया है। उन्होंने कहा कि अभी तक महिला की मौत के कारणों का पता नहीं चला है, लेकिन जल्द ही वे हत्यारे को गिरफ्तार कर हत्या की गुत्थी सुलझा लेंगे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

साल के आखिर में नौकरी के नये मौके

साल के आखिर में नौकरी के नये मौके

समझ-सहयोग से संभालें रिश्ते

समझ-सहयोग से संभालें रिश्ते

धुंधलाए अतीत की जीवंत झांकी

धुंधलाए अतीत की जीवंत झांकी

प्रेरक हों अनुशासन और पुरस्कार

प्रेरक हों अनुशासन और पुरस्कार

सर्दी में गरमा-गरम डिश का आनंद

सर्दी में गरमा-गरम डिश का आनंद

यूं छुपाए न छुपें जुर्म के निशां

यूं छुपाए न छुपें जुर्म के निशां

मुख्य समाचार

फौलादी जज्बे से तोड़ दी मुसीबतों की बेड़ियां...

फौलादी जज्बे से तोड़ दी मुसीबतों की बेड़ियां...

अनहोनी को होनी कर दे...

हनोई में एक बौद्ध वृक्ष, जड़ें जुड़ी हैं भारत से!

हनोई में एक बौद्ध वृक्ष, जड़ें जुड़ी हैं भारत से!

डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की बिसारी मधुर स्मृति को ताजा किया दैनि...

शहर

View All