गुरमीत ने कोकीन के बदले दी थी हत्यारों को बाइक

गुरमीत ने कोकीन के बदले दी थी हत्यारों को बाइक

चंडीगढ़/पंचकूला, 25 अक्तूबर (नस)

पंजाब विश्वविद्यालय के सोपू नेता और लारेंस बिश्नोई गैंग के गुर्गे गुरलाल बराड़ की हत्या की साजिश में शामिल गैंगस्टर दविंदर बंबीहा ग्रुप के एक और सदस्य गुरमीत सिंह उर्फ गीता कोे यूटी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हत्यारों को गुरलाल की हत्या के लिए मोटरसाइकिल सौंपने वाले गुरविंदर सिंह के साथ गुरमीत सिंह उर्फ गीता बराबर का साथी था। बताया जाता है कि गौरव ने गुरमीत को बाइक मुहैया कराने के बदले कोकीन उपलब्ध कराने का आफर दिया था। पुलिस ने नशा तस्कर गुरमीत उर्फ गीता को आईएसबीटी के नजदीक से गिरफ्तार कर लिया। वह गिरफ्तारी से बचने के लिए महाराष्ट्र के हजूर साहिब फरार होने की फिराक में था। पुलिस के हत्थे चढ़े गुरविंदर की निशानदेही पर पुलिस गीता तक पहुंचने में सफल रही। गुरविंदर आज तक पुलिस रिमांड पर रहा कल पुलिस गीता को भी अदालत में पेश करेगी। पुलिस ने बताया कि गुरमीत ने पूछताछ में खुलासा किया कि एक हत्या की कोशिश के मामले में वह नाभा जेल में बंद रहा। इस दौरान उसकी मुलाकात वहां बंद दविंदर बंबीहा गैंग के सदस्यों गौरव उर्फ लक्की के साथ हुई थी।

गौरव ने ही गुरलाल की हत्या के लिए गुरविंदर और गुरमीत को नकली नंबर प्लेट के साथ मोटरसाइकिल मुहैया कराने के लिए कहा था। 8 अक्तूबर को वे खरड़ पहुंचे और वहां दोनों ने हत्यारों नीरज चस्का, मान और अन्य को मोटरसाइकिल सौंप दी। इसके दो दिन बाद यानी 10 और 11 अक्तूबर की देर रात 12.15 बजे बाइक सवार हत्यारें सिटी इम्पोरियम के सामने गुरलाल बराड़ को गोलियों से भूनकर फरार हो गए। पुलिस ने बताया कि आरोपी गुरमीत नशे का सेवन करता और नशीले पदार्थों की तस्करी भी करता है। जांच में पता चला है कि गुरलाल की हत्या के लिए मोटरसाइकिल सौंपने की एवज में गौरव ने उसे कोकीन देने का लालच भी दिया था।

हथियारों के साथ पाॅश इलाकों से 3 गिरफ्तार

सोपू नेता गुरलाल बराड़ की हत्या के बाद लगातार सुर्खियां बटोर रही चंडीगढ़ पुलिस लगातार गैंगस्टरों पर अपनी नकेल कसे हुए है। पिछले कुछ दिनों से आधा दर्जन से ज्यादा गैंगस्टर पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं। बीती रात को सेक्टर 8 में सिंधी स्वीटस के नजदीक पुलिस ने नाका लगा दो अलग अलग मामलों में 3 आरोपियों को काबू किया। पुलिस के अनुसार आरोपियों की पहचान मोहाली के गांव छोटी झांसी निवासी मनदीप, हिमाचल प्रदेश के गांव मानकपुर निवासी प्रदीप, अमृतसर के गांव वेरका पटटी निवासी हुसनदीप सिंह हुंडर के रूप में हुई। डीएसपी कृष्ण कुमार की निगरानी में सेक्टर 3 थाना पुलिस ने नाका लगाया था। प्रैस लाइट प्वाइंट की तरफ से आ रही कार को रोका। उसमें से अचानक एक युवक नीचे उतर कर भागने की कोशिश करने लगा तो पुलिस ने उसे मौके पर ही काबू कर लिया। कार में बैठे मनदीप के कब्जे से पुलिस ने देसी कटटा, दो कारतूस और प्रदीप के पास से तीन कारतूस बरामद किए।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

मुसीबत आये तो और मजबूत हो जाइये

मुसीबत आये तो और मजबूत हो जाइये

...सभना जीआ इका छाउ

...सभना जीआ इका छाउ

सो क्यों मंदा आखिए...

सो क्यों मंदा आखिए...

महामारी को अवसर बनाने की करतूतें

महामारी को अवसर बनाने की करतूतें

खोये बच्चे की मां की खुशी ही प्रेरणा

खोये बच्चे की मां की खुशी ही प्रेरणा

कोर्ट की सख्ती के बाद खाली होंगे आवास

कोर्ट की सख्ती के बाद खाली होंगे आवास

मुख्य समाचार

कृषि सुधार कानूनों पर जानबूझकर फैलाया जा रहा है भ्रम : मोदी

कृषि सुधार कानूनों पर जानबूझकर फैलाया जा रहा है भ्रम : मोदी

खजूरी गांव में 6 लेन मार्ग चौड़ीकरण के लोकार्पण अवसर पर पीएम...

कश्मीर : एक बार फिर आतंकी हमले की बाडी कैमरे लगाकर की गई रिकार्डिंग!

कश्मीर : एक बार फिर आतंकी हमले की बाडी कैमरे लगाकर की गई रिकार्डिंग!

युवकों को आकर्षित करने और रंगरूटों में जोश भरने का प्लान

शहर

View All