किसानों को मुल्लांपुर बार्डर पर रोका

किसानों को मुल्लांपुर बार्डर पर रोका

अंबाला शम्भू टोल नाके पर किसान महिला मोर्चा के आयोजन पर सोमवार को सरकार विरोधी प्रदर्शन करती महिलाएं । -प्रदीप मैनी

चंडीगढ़, 18 जनवरी (ट्रिन्यू)

चंडीगढ़ में कृषि कानूनों के विरोध में ट्रैक्टर रैली निकाल रहे किसानों को प्रशासन ने भारी पुलिस पैरा फ़ोर्स की तैनाती कर पंजाब से लगते मुल्लांपुर बार्डर पर ही रोक दिया व सेक्टर 17 में प्रदर्शन करने पहुंचने नहीं दिया। आज करीब 500 ट्रैक्टरों पर किसान पंजाब के कुराली से रैली लेकर निकले थे लेकिन पुलिस ने मुल्लांपुर बार्डर सील कर दिया। मुल्लांपुर बार्डर आज एक छावनी में बदल गया था। पुलिस फोर्स के अलावा पैरा मिलिट्री फोर्स भी मौजूद रही। इसके अतिरिक्त वाटर केनन गाड़ियां, आंसू गैस के गोले समेत टो वैन को बार्डर पर तैनात कर दिया गया । चंडीगढ़ पुलिस द्वारा रोके जाने पर किसानों ने पुलिस के निर्देश माने व सेक्टर 38 वेस्ट स्थित डंपिंग ग्राउंड से होते हुए पंजाब जाने को राजी हो गए। चंडीगढ़ के धनास से होते हुए वे पंजाब की ओर हो लिए।

चंडीमंदिर टोल प्लॉजा पर महिलाओं ने भी भरी हुंकार

पिंजौर (निस) : चंडीगढ़-शिमला नेशनल हाईवे पर चंडीमंदिर टोल प्लॉजा पर सोमवार को कृषि कानूनों के विरुद्ध धरने पर बैठे किसानों द्वारा आयोजित महिला किसान दिवस मनाया गया जिसमें भारी संख्या में महिलाओं ने भाग लिया । इसमें भाकियू जिलाध्यक्ष नरेंद्र सिंह मुख्य अतिथि, पंजाबी गायिका राखी हुंडल विशेष अतिथि थीं। हुंडल ने किसानों का हौसला बढ़ाते हुए कृषि संबंधी गीत गाए। नरेंद्र सिंह ने चेतावनी देते हुए कहा सरकार किसानों की इस शक्ति को कमजोर समझने की भूल न करे। कार्यक्रम में पंचकूला नगर परिषद की पूर्व चेयरपर्सन कुसुम लत्ता, मिनी लाम्बा, रजिंदर कौर, भूरी बेगम सहित अन्य महिलाएं मौजूद थी।

‘भाजपा आंदोलन को कर रही कमजोर’

किसान खेत, खलिहान छोड़कर सड़कों पर बैठा अपने हक की लड़ाई लड़ने को मजबूर है वहीं दूसरी ओर तानाशाह सरकार बार-बार उन्हें बातचीत के लिए बुला तो लेती है लेकिन उनकी मांगों को नहीं मानती। विधायक प्रदीप चौधरी ने कालका में बोलते हुए कहा कि एनआईए द्वारा किसानों को नोटिस दिया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। किसान आंदोलन को कमजोर करने के लिए भाजपा सरकार इस प्रकार की साजिशें रच रही है।

चंडीमंदिर स्थित टोल प्लॉजा पर सोमवार को हाथों में बैनर लेकर कृषि कानूनों का विरोध करती महिलाएं। -दैनिक ट्रिब्यून

‘बेकार नहीं जायेगा किसानों का बलिदान’

पंचकूला (ट्रिन्यू) : हरियाणा महिला कांग्रेस प्रदेश भर में जिला स्तर पर किसान परिवारों के बीच जाकर महिला किसान दिवस मना रही है। यह कार्यक्रम देशभर में पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी एवं पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी के दिशा निर्देश पर मनाया जा रहा है, ताकि किसानों व उनके परिवारों को या बिल्कुल महसूस न हो कि वे अकेले हैं। यह बात आज हरियाणा महिला कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सुधा भारद्वाज ने जिला के बरवाला ब्लॉक के विभिन्न गांवों में किसान परिवारों के बीच जाकर उनसे बात करते हुए कही। वे बरवाला के टोल प्लाजा पर भी गईं तथा किसानों से मिलीं। उन्होंने कहा कि करीब 2 माह से किसान दिल्ली सीमा सहित विभिन्न स्थलों पर धरने पर बैठे हैं। पंचकूला जिला में भी किसान बरवाला व चंडीमंदिर टोल प्लाजा पर धरना दे रहे हैं, मगर केंद्र की मोदी सरकार हठधर्मिता छोड़ने को तैयार नहीं है। जबकि इस दौरान 60 से भी ज्यादा किसानों की इस आंदोलन के दौरान शहादत हो चुकी है। इस अवसर पर उनके साथ अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की सचिव नदीता हुड्डा, पंचकूला महिला कांग्रेस की महासचिव प्रियंका, बरवाला ब्लॉक अध्यक्ष रितु कसाना, किरण मलिक, नैंसी और यशमती भी उपस्थित थीं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

अभिवादन से खुशियों की सौगात

अभिवादन से खुशियों की सौगात

क्या सचमुच हैं एलियंस

क्या सचमुच हैं एलियंस

अब राजनीति की ट्रेन में सवार मेट्रोमैन

अब राजनीति की ट्रेन में सवार मेट्रोमैन

मुख्य समाचार

शिवसेना पश्चिम बंगाल में नहीं लड़ेगी चुनाव, तृणमूल कांग्रेस को दिया समर्थन

शिवसेना पश्चिम बंगाल में नहीं लड़ेगी चुनाव, तृणमूल कांग्रेस को दिया समर्थन

बंगाल में शिवसेना, राजद या सपा का क्या जनाधार है...यह हास्या...

हरियाणा का बजट सत्र कल से, कांग्रेस सदन में पेश करेगी अविश्वास प्रस्ताव!

हरियाणा का बजट सत्र कल से, कांग्रेस सदन में पेश करेगी अविश्वास प्रस्ताव!

विपक्ष के हमलों का जवाब देने को तैयार भाजपा-जेजेपी गठबंधन सर...

शहर

View All