पंचकूला निगम की पहली बैठक

आवारा कुत्तों से 31 जून तक निजात दिलवाने का निर्णय

पालतू कुत्तों के मालिकों को महीने में कराना होगा पंजीकरण

आवारा कुत्तों से 31 जून तक निजात दिलवाने का निर्णय

पंचकूला में बुधवार को नगर निगम की बैठक में मौजूद स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता, मेयर कूलभूषण गोयल व अन्य पार्षद। -दैनिक ट्रिब्यून

ट्रिब्यून न्यूज सर्विस

पंचकूला, 27 जनवरी

नगर निगम के निर्वाचित पार्षदों की पहली बैठक आज यहां सेक्टर- एक के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में आयोजित की गई। बैठक में विकास संबंधी 23 एजंडे रखे गये। आवारा कुत्तों से 31 जून तक और बेसहारा पशुओं से 31 मार्च तक निजात दिलवाने का निर्णय लिया गया। पालतू कुत्तों के मालिकों का एक महीने के भीतर पंजीकरण कराना होगा। प्राप्त जानकारी अनुसार बैठक में महापौर कुलभूषण गाेयल के अलावा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता, आयुक्त आरके सिंह, संयुक्त आयुक्त संयम गर्ग, अधीक्षक अभियंता विजय गोयल, उपनगर आयुक्त दीपक सूरा, कार्यकारी अधिकारी जरनैल सिंह, 20 वार्डों के पार्षदों व निगम के अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर ज्ञानचंद गुप्ता ने पार्षदों व निगम के मेयर को बधाई एवं शुभकामनायें दीं। उन्होंने पार्षदों से कहा कि वे वार्ड की समस्याओं को लिखित रूप में निगम मेयर को दें। भेदभाव व राजनीति से ऊपर उठकर शहर को साफ सुथरा, आत्मनिर्भर व स्मार्ट सिटी बनाने की दिशा में मिलजुलकर निष्ठा, लन व ईमानदारी के साथ काम करें। बैठक में निगम क्षेत्र की गलियाें व सड़कों की मरम्मत का कार्य 15 फरवरी से शुरू करने पर निर्णय लिया गया। मृत पशुओं को ठिकाने लगाने के लिये एक करोड़ 38 लाख रुपये की व्यवस्था की गई है। विभिन्न सेक्टरों में संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे व सुरक्षा गेट बनवाने का निर्णय भी लिया गया। चौकों, बस स्टॉप व अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर विज्ञापन के लिये कमेटी बनाई गई है। शीघ्र ही टेंडर कर निगम के राजस्व में बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया गया है। इस मौके पर निगम के आयुक्त आरके सिंह ने पार्षदों से आग्रह करते हुए कहा कि वे स्वच्छता सर्वेंक्षण-2021 में सहयोग दें और घर के आसपास की सफाई सुनिश्चित करने के लिये निगम के सफाई मित्रों का सहयोग लें।

निगम की खेती की जमीन 3 वर्ष के लिये ठेके पर दी जाएगी

सेक्टर-8, 9 व 10 में वाहन पार्कों को निगम को देने के लिये भी प्रस्ताव प्रशासन को भेजने, खाली जगह पेड़ पौधे लगाने और उसके रख रखाव करने सेक्टर-20 में एसएसवीपी की जमीन पर दूसरे राज्य से लोग कूड़ा करकट न फेंके, इसके लिये तारबंदी करने का निर्णय लिया गया है। निगम की 1622.83 एकड़ भूमि की निशानदेही करवाने और अवैध कब्जे हटवाने, निगम की खेती की जमीन को तीन वर्ष के लिये ठेके पर देने का निर्णय लिया गया।

115 करोड़ से अधिक का बजट पारित

आज निगम की बैठक में विभिन्न विकास व अन्य कार्यों पर खर्च करने के लिए 115.65 करोड़ रुपए का बजट सर्वसम्मति से पारित किया गया, जबकि विभिन्न मदों में निगम को आगामी वित्त वर्ष में 119.37 करोड़ रुपए का राजस्व एकत्र करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया। बैठक की अध्यक्षता मेयर कुलभूषण गोयल व नगर आयुक्त आरके सिंह ने की। बैठक में 2416 लाख रुपए की राशि विकास कार्यों पर खर्च करने का प्रस्ताव रखा गया था लेकिन मेयर ने इसे बढ़ाकर 40 करोड़ करने सुझाव दिया। इस पर सभी पार्षदों ने सहमति दी। यह राशि स्ट्रीट लाइट के रखरखाव, मशीनरी की खरीद, दूध डेयरियों को बदलने, लाइब्रेरी का निर्माण, शौचालयों के निर्माण व रखरखाव, सीसीटीवी लगानेने, बागवानी को बढाने आदि पर खर्च की जाएगी। गरीब बच्चों के लिए शिक्षा पर निर्धारित राशि भी देने पर पूर्ण सहमति बनी।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

अभिवादन से खुशियों की सौगात

अभिवादन से खुशियों की सौगात

क्या सचमुच हैं एलियंस

क्या सचमुच हैं एलियंस

अब राजनीति की ट्रेन में सवार मेट्रोमैन

अब राजनीति की ट्रेन में सवार मेट्रोमैन

मुख्य समाचार

डिजिटल प्लेटफॉर्म के खिलाफ कार्रवाई करने के कोई प्रावधान नहीं : सुप्रीमकोर्ट

डिजिटल प्लेटफॉर्म के खिलाफ कार्रवाई करने के कोई प्रावधान नहीं : सुप्रीमकोर्ट

अमेजन प्राइम वीडियो की भारत प्रमुख अपर्णा पुरोहित को गिरफ्ता...

शहर

View All