सीएम ने मानी छोटा आरयूबी निर्माण की मांग

सीएम ने मानी छोटा आरयूबी निर्माण की मांग

पिंजौर-कालका रेलवे फाटक पर सीएम मनोहर लाल खट्टर दुकानदारों, पीडब्ल्यूडी इंजीनियरों से बात करते हुए। -निस

शहबाब सैमुअल/निस

पिंजौर, 25 अक्तूबर

कालका-पिंजौर रेलवे फाटक पर आरयूबी (रेलवे अंडरब्रिज) को लेकर दुकानदारों, पीडब्ल्यूडी विभाग अधिकारियों के बीच चल रहे विवाद को लेकर मुख्यमन्त्री मनोहर लाल खट्टर गत डेढ़ वर्षों के दौरान रविवार को तीसरी बार फाटक का अवलोकन करने पहुंचे। उनके साथ विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता, पूर्व विधायक लतिका शर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष अजय शर्मा, बाबा रामपाल सोढी सहित अन्य पार्टी वर्कर भी थे। मुख्यमन्त्री ने निर्माण स्थल पर ही खड़े होकर दुकानदारों, पीडब्ल्यूडी इंजिनियरों से आमने-सामने बात कर प्लान समझा। अधिकारियों से बात कर मनोहर लाल खट्टर ने दुकानदारों को दोनों प्लाॅन समझाते हुए बताया कि पहले प्लाॅन में फोरलेन सड़क के दोनों ओर सर्विस लेन बनेगी और फाटक पर यू-टर्न लेकर वाहन दूसरी लेन में जा सकेंगे लेकिन दूसरे प्लाॅन में सर्विस लेन भी मुख्य सड़क के निचले लेवल पर बनेगी इसमें यू-टर्न की सुविधा नहीं होगी दुकानों और आसपास की कालोनियों में जाने वाले वाहन जिस लेन से जाएंगे उसी से वापस आकर ही दूसरी लेन पर जा पाएंगे और शोरूमों के बेसमेंट ग्राउंड फ्लोर बन जाएंगे। रविन्द्र अरोड़ा, तरसेम गुप्ता, सिमरप्रीत सिंह सहित अन्य दुकानदारों ने एक सुर में दूसरे प्लाॅन बनाने का आग्रह किया जिसके बाद मुख्यमन्त्री दुकानदारों और भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ क्लासिक हाॅल गए जहां लोगों को संबोधित करते हुए उन्होने बताया कि इस पर उन्होंने उपमुख्यमन्त्री एंव पीडल्यूडी मन्त्री दुष्यंत चौटाला से भी सहमति ली है, दुकानदारों की भी सहमति है तो सर्वसम्मति से दूसरे प्लाॅन अनुसार आरयूबी बनाएंगे। उन्होंने कहा प्राचीन स्थान पर्यटन स्थल पिंजौर-कालका का बहुत महत्व है यहां दूर-दूर से लोग आते हैं भले ही बाईपास बन गया हो लेकिन जिन्हे पुराना शहर देखने की आदत हैं वे अंदर से ही आते हैं। उन्होंने कहा हिमाचल बद्दी जाने वालों के लिए निर्माणाधीन बाईपास 2-3 महीनों में बनकर तैयार हो जाएगा। उन्होने कहा लोग पहले इन दोनों शहरों को कम जानते थे लेकिन नेशनल हाईवे बनने के बाद ये दोनों राष्ट्रीय मानचित्र पर आ गए हैं। पिंजौर-कालका वेलफेयर एसोसिएशन अध्यक्ष संत शर्मा ने दुकानदारों की ओर से मुख्यमन्त्री का अभार जताया। गौरतलब है कि बड़े आरयूबी निर्माण के विरुद्ध दुकानदारों, शोरुम मालिकों ने 20 दिनों तक रेलवे फाटक के पास ही धरना प्रदर्शन किया था।

दूरी बनाए रखने के चलते हाॅल में नहीं घुसने दी भीड़

रेलवे फाटक पर आरयूबी निर्माण स्थल से मुख्यमन्त्री मनोहर लाल खट्टर जैसे ही क्लासिक हाॅल पहुंचे वहां पर 2 गज की दूरी बनाए रखने के चलते पुलिस ने दुकानदारों, भाजपा, जजपा कार्यकर्ताओं, पत्रकारों को भी अंदर घुसने से रोका इस दौरान थोड़ी धक्का-मुक्की भी हुई और कई कार्यकर्ता धक्का देकर अंदर घुस ही गए। जजपा जिलाध्यक्ष भाग सिंह दमदमा को भी रोका गया।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

मुसीबत आये तो और मजबूत हो जाइये

मुसीबत आये तो और मजबूत हो जाइये

...सभना जीआ इका छाउ

...सभना जीआ इका छाउ

सो क्यों मंदा आखिए...

सो क्यों मंदा आखिए...

महामारी को अवसर बनाने की करतूतें

महामारी को अवसर बनाने की करतूतें

खोये बच्चे की मां की खुशी ही प्रेरणा

खोये बच्चे की मां की खुशी ही प्रेरणा

कोर्ट की सख्ती के बाद खाली होंगे आवास

कोर्ट की सख्ती के बाद खाली होंगे आवास

मुख्य समाचार

कृषि सुधार कानूनों पर जानबूझकर फैलाया जा रहा है भ्रम : मोदी

कृषि सुधार कानूनों पर जानबूझकर फैलाया जा रहा है भ्रम : मोदी

खजूरी गांव में 6 लेन मार्ग चौड़ीकरण के लोकार्पण अवसर पर पीएम...

कश्मीर : एक बार फिर आतंकी हमले की बाडी कैमरे लगाकर की गई रिकार्डिंग!

कश्मीर : एक बार फिर आतंकी हमले की बाडी कैमरे लगाकर की गई रिकार्डिंग!

युवकों को आकर्षित करने और रंगरूटों में जोश भरने का प्लान

शहर

View All