पं. जवाहरलाल नेहरू की सुरक्षा टीम के सदस्य रहे 96 साल के विश्वंभर दयाल वार्ष्णेय ने लगवाई कोरोना वैक्सीन!

पं. जवाहरलाल नेहरू की सुरक्षा टीम के सदस्य रहे 96 साल के विश्वंभर दयाल वार्ष्णेय ने लगवाई कोरोना वैक्सीन!

चंडीगढ़, 4 मार्च (ट्रिन्यू)

हौसला और जज्बा हो तो सारी नकारात्मक बातों को दर किनार कर आगे बढ़ा जा सकता है जो औरों के लिए भी प्रेरणादायक हो। ऐसा ही कर दिखाया ट्रिब्यून सोसायटी कांप्लेक्स, रायपुर खुर्द के निवासी विश्वंभर दयाल वार्ष्णेय ने। उन्होंने 96 साल की उम्र में कोविड की वैक्सीन लगवाई।

विश्वंभर दयाल वार्ष्णेय के पुत्र शिक्षाविद एवं पूर्व कुलपति एसी वार्ष्णेय ने बताया कि उनके पिता विश्वंभर दयाल की फिटनेस का राज बेहतरीन लाइफस्टाइल है। उन्होंने कहा, 'मैं खुद रिटायर्ड हूं, मैंने और मेरी पत्नी ने भी सेक्टर-44 स्थित चैतन्य अस्पताल में कोविड की वैक्सीन लगवाई है। आज जरूरत है इस संबंध में चेतना लाने की और आगे कदम बढ़ाने की।' बताया गया कि विश्वंभर दयाल पुलिस सेवा में रह चुके हैं और प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की सुरक्षा टीम के सदस्य थे। इसके अलावा महात्मा गांधी को भी उन्होंने करीब से देखा और समझा है। कोविड महामारी एवं इससे निपटने के उपायों पर 96 वर्षीय वार्ष्णेय, उनके पुत्र एवं पुत्रवधू ने कहा कि हर मुसीबत से पार पाया जा सकता है, बशर्ते जागरूकता हो और लोग अपने हिस्से की जिम्मेदारी सही से निभायें।

 

 

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

मुख्य समाचार

छह महीने बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें

छह महीने बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें

उपचाराधीन लोगों की संख्या फिर 10 लाख से अधिक

हिंसा में 5 की मौत के बाद सियासी तूफान

हिंसा में 5 की मौत के बाद सियासी तूफान

केंद्रीय बलों पर गोलीबारी का आरोप, बंगाल में 76 प्रतिशत मतदा...