पहले, तीसरे, 5वें, 7वें, 9वें सेमेस्टर की परीक्षाएं होंगी 24 से

पीयू ने जारी की परीक्षा के लिये गाइडलाइंस

पहले, तीसरे, 5वें, 7वें, 9वें सेमेस्टर की परीक्षाएं होंगी 24 से

चंडीगढ़, 19 जनवरी (ट्रिन्यू)

पंजाब यूनिवर्सिटी (पीयू) 24 जनवरी से शुरू होने जा रही ऑनलाइन परीक्षाओं में शामिल होने वाले छात्रों के लिए नियमित, री-अपीयर, यूएसओएल, प्राइवेट, एडिशनल और डिफिशिएंट विषयों के लिए गाइडलाइन्स जारी की हैं। परीक्षा नियंत्रक डॉ. जगत भूषण ने बताया कि विस्तृत दिशा-निर्देश वेबसाइट पर डाल दिए गए हैं। छात्रों को सलाह दी गई है कि वे अपने रोल नंबर के लिए अपने विभाग, क्षेत्रीय केंद्र या कॉलेज से संपर्क करें।

यूएसओएल/प्राइवेट/री-अपीयर/ अतिरिक्त/ डिफिशिएंट सब्जेक्ट के उम्मीदवारों के रोल नंबर यूजी/पीजी वेबसाइटों पर उपलब्ध हैं। यदि किसी छात्र को अपना पासवर्ड याद नहीं रहता है, तो वेबसाइट पर उपलब्ध विभिन्न विवरणों को दर्ज करके उसे पुनः प्राप्त किया जा सकता है। पहले, तीसरे, 5वें, 7वें और 9वें सेमेस्टर के छात्रों के लिए ऑनलाइन परीक्षाएं 24 जनवरी से होंगी। परीक्षाओं के लिए समय-स्लॉट सुबह 9.30 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक और दोपहर 1.30 बजे से शाम 4.30 बजे तक है। प्रश्न-पत्र संबंधित परीक्षा के शुरू होने से 20 मिनट पहले आॅनलाइन वेबसाइट पर उपलब्ध होगा। छात्रों को बिना लॉग-इन किए सीधे प्रश्न-पत्र डाउनलोड करना है। प्रश्न-पत्र डाउनलोड करना छात्र की जिम्मेदारी है क्योंकि इसे किसी अन्य माध्यम से उन्हें नहीं भेजा जाएगा।

प्रो. भूषण ने कहा कि छात्रों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्होंने सही प्रश्न-पत्र डाउनलोड किया है। अंडर ग्रेजुएट छात्र ए-4 साइज की 20 शीट का उपयोग कर सकते हैं और पोस्ट ग्रेजुएट छात्र ए-4 साइज की 24 शीट का उपयोग कर सकते हैं। उत्तर लिखने के लिए शीट के केवल एक तरफ का उपयोग किया जाना चाहिए। महाविद्यालयों, विश्वविद्यालय विभागों एवं क्षेत्रीय केन्द्रों के विद्यार्थी आंसर शीट को केवल संबंधित संस्थान द्वारा उपलब्ध करायी गयी ई-मेल आईडी/वेबसाइट पर डाक द्वारा ही ऑनलाइन पेपर समाप्त होने के 60 मिनट के भीतर प्रातः एवं शाम के स्लॉट के बाद जमा करेंगे। यूएसओएल, प्राइवेट, री-अपीयर, एडिशनल और डिफिशिएंट सब्जेक्ट के उम्मीदवारों को अपनी उत्तर पुस्तिकाएं केवल विश्वविद्यालय के परीक्षा पोर्टल पर अपलोड करनी होंगी। इन छात्रों के लिए किसी अन्य तरीके की अनुमति नहीं है।

उत्तर पुस्तिका पीडीएफ बनाकर करनी होगी ईमेल

कंट्रोलर ने कहा कि छात्रों को अपनी उत्तर पुस्तिका का एक पीडीएफ बनाना होगा और उसे अपनी ईमेल आईडी पर भी ईमेल करना होगा। उत्तर पुस्तिका ऑनलाइन जमा करने में किसी भी विसंगति के मामले में, उम्मीदवार को नोडल सेंटर/कॉलेज को टाइम-स्टैम्प्ड ईमेल अग्रेषित करने के लिए कहा जाएगा। प्रत्येक पृष्ठ पर पृष्ठ संख्या लिखी जानी चाहिए और पृष्ठों को क्रमानुसार स्कैन किया जाना चाहिए। उत्तर पुस्तिका को जेपीईजी फार्मेट में अपलोड करने की अनुमति नहीं है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम

'अ' से आत्मनिर्भर 'ई' से ईंधन 'उ' से उपले

'अ' से आत्मनिर्भर 'ई' से ईंधन 'उ' से उपले

दैनिक ट्रिब्यून की अभिनव पहल

दैनिक ट्रिब्यून की अभिनव पहल

मुख्य समाचार

भारतीय पुरूष कम्पाउंड तीरंदाजी टीम ने विश्व कप में जीता लगातार स्वर्ण पदक

भारतीय पुरूष कम्पाउंड तीरंदाजी टीम ने विश्व कप में जीता लगातार स्वर्ण पदक

पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए फ्रांस को दो अंक से दी पटकनी

मोबाइल पर जल्द खत्म होने वाली है अनजान कॉल्स

मोबाइल पर जल्द खत्म होने वाली है अनजान कॉल्स

सरकार स्थापित कर रही है अपना 'ट्रूकॉलर'!

माता वैष्णो देवी मंदिर के मुख्य पुजारी का निधन

माता वैष्णो देवी मंदिर के मुख्य पुजारी का निधन

उपराज्यपाल ने जताया शोक

शहर

View All