एकदा

सच्चा कला साधक

सच्चा कला साधक

यूनान की राजधानी में चित्र-प्रदर्शनी का आयोजन हुआ तो राजा-रानी सर्वोत्तम चित्र का चुनाव करने आए। प्रदर्शनी में एक से बढ़कर एक चित्र थे, लेकिन यूनान के महान देवता अपोलो के एक चित्र ने राजा-रानी का मन मोह लिया और उसे सर्वोत्तम घोषित किया गया। जब पुरस्कार के लिए कलाकार का नाम पुकारा गया तो कोई मंच पर नहीं आया। राजा ने सैनिकों को आदेश दिया कि कलाकार को ढूंढ़ कर लाएं। एक गुलाम सिर झुकाए खड़ा हुआ था। राजा से गुलाम बोला—मुझे माफ़ करें, गुलाम को चित्र बनाने की मनाही है, लेकिन कला मेरे तन-मन में बसी हुई है। मैं चाह कर भी खुद को रोक नहीं पाया और चित्र बना दिया। आप जो सजा चाहें, दे दें। राजा ने कहा—तुम कला के सच्चे साधक हो, जो मृत्यु से बिना डरे चित्र बनाने में लगे रहे। सच्ची कला-साधना के लिए तुम्हें सज़ा नहीं, पुरस्कार दिया जाता है। आज से तुम्हारी कला पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा।

’ प्रस्तुति : योगेंद्र नाथ शर्मा ‘अरुण’

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

मुख्य समाचार

यूपी : बाराबंकी में लुधियाना से बिहार जा रही प्राइवेट बस से टकराया ट्रक, 18 लोगों की मौत, 25 अन्य घायल

यूपी : बाराबंकी में लुधियाना से बिहार जा रही प्राइवेट बस से टकराया ट्रक, 18 लोगों की मौत, 25 अन्य घायल

खराब होने के कारण सड़क किनारे खड़ी थी बस, ट्रक ने मारी टक्कर

बादलों ने मचाई तबाही : जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में 7 की मौत, 40 लापता; पन बिजली परियोजना समेत कई मकान ध्वस्त

बादलों ने मचाई तबाही : जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में 7 की मौत, 40 लापता; पन बिजली परियोजना समेत कई मकान ध्वस्त

कारगिल के खंगराल गांव और जंस्कार हाईवे के पास स्थित सांगरा ग...