सभापति से नाराज हरिप्रसाद का वाकआउट

नयी दिल्ली, 27 नवंबर (एजेंसी) राज्यसभा में बुधवार को शून्यकाल के दौरान कांग्रेस के बीके हरिप्रसाद को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जिक्र करने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने जब रोका तो वह नाराज होकर सदन से वाकआउट कर गए। कर्नाटक में बाढ़ और इसके कारण हुए नुकसान पर बोलते हुए हरिप्रसाद ने जब कहा कि हर मुद्दे पर ट्वीट करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर कर्नाटक में बाढ़ पर कुछ भी नहीं कहा। इस पर सभापति ने उन्हें तत्काल टोका और कहा कि उनकी टिप्पणी रिकॉर्ड पर नहीं जाएगी। नायडू ने कहा कि शून्यकाल राजनीतिक टिप्पणियां करने के लिए नहीं होतीं, आप केवल अपनी बात रखें। हरिप्रसाद के विरोध जताने पर सभापति ने कहा, ‘मैं आपके लिए माइक शुरू नहीं कर रहा हूं।' इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए हरिप्रसाद ने कहा कि उन्हें बोलने से गलत तरीके से रोका जा रहा है। फिर वह सदन से वाकआउट कर गए। उनके विरोध पर सभापति ने कहा ‘मुझे खेद है। आप आसन पर आक्षेप लगा रहे हैं। आसन की अवहेलना करने पर सदस्यों को बोलने का मौका नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा इसे रिकॉर्ड पर रखा जाए कि आसन की अवहेलना करने वाला कोई भी हो, उसे अवसर नहीं मिलेगा।'' इससे पहले, बैठक शुरू होने पर नायडू ने भाजपा के विजय गोयल को भी आसन की अनुमति लिए बिना बोलने पर आगाह किया था। उन्होंने कहा ‘कुछ भी रिकॉर्ड पर नहीं जाएगा।' नायडू ने आगाह करते हुए कहा कि वह गोयल का नाम नाम लेकर चेतावनी देंगे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All