भारत में तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों से चिंतित : भारतीय मूल के विशेषज्ञ

न्यूयॉर्क, 21 जून (एजेंसी) अमेरिका में हार्वर्ड ग्लोबल हेल्थ इंस्टीट्यूट के निदेशक डॉ. आशीष झा ने भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ रहे मामलों पर चिंता जताते हुए कहा कि जब बिहार एवं उत्तर प्रदेश जैसे अधिक आबादी वाले राज्यों में संक्रमण चरम पर होगा, तो देश में संक्रमण के मामलों और मृतक संख्या में ‘बड़ी बढ़ोतरी’ हो सकती है। भारतीय मूल के झा ने कहा, ‘संक्रमण के तेजी से बढ़ रहे मामलों से चिंतित हूं। भारत में जनसंख्या की सघनता का इसमें योगदान हो सकता है और हमने मुंबई, दिल्ली एवं चेन्नई जैसे बड़े शहरों में संक्रमण फैलने की अधिक दर देखी है।’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन मुझे सबसे अधिक चिंता इस बात की है कि बिहार एवं उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में अभी संक्रमण चरम पर नहीं पहुंचा है। जब वहां संक्रमण तेजी से फैलेगा, तो संक्रमित लोगों की संख्या और मृतक संख्या में और तेजी से बढ़ोतरी होने की आशंका है। हमें इसके लिए तैयार रहने की आवश्यकता है।’ झा ने ईमेल के जरिए दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘लगातार 6 दिन से भारत में संक्रमण के रोजाना 10,000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं। एक अक्तूबर तक हो सकती है 1,36,056 मौतें डॉ. आशीष झा ने भारत में संक्रमण और मौत की संख्या का अनुमान लगाने के लिए ‘यूयांग गु कोविड-19‘ मॉडल का जिक्र किया। यह मॉडल विश्वभर में संक्रमण के मामलों और मौत का अनुमान बताता है। गु मॉडल के अनुसार भारत में एक अक्तूबर, 2020 तक 2,73,33,589 लोग संक्रमित हो सकते हैं और इनमें से 1,36,056 लोगों की मौत हो सकती है। उन्होंने कहा कि संक्रमण को रोकने का संघर्ष 12 महीने या इससे भी अधिक समय तक चल सकता है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All