कोरोना को हराने में मदद कर रहा योग : मोदी

ट्रिब्यून न्यूज सर्विस नयी दिल्ली, 21 जून कोरोना वायरस के संकट के मद्देनजर इस बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस डिजिटल प्लेटफॉर्म व घर पर ही मनाया गया। सोशल डिस्टेंसिंग के चलते इस बार सरकारी तौर पर यहां खुले मैदान में सार्वजनिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया गया। इस मौके पर रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संदेश में कहा है कि दुनिया को कोरोना वायरस महामारी के कारण योग की आवश्यकता पहले के मुकाबले कहीं अधिक महसूस हो रही है। यह प्राचीन भारतीय परंपरा बड़ी संख्या में दुनियाभर में कोरोना रोगियों को बीमारी को हराने में मदद कर रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मौजूदा समय में योग अधिक प्रासंगिक है, क्योंकि शरीर का श्वसन तंत्र ही है जो कोरोना वायरस से काफी बुरी तरह प्रभावित होता है। इसलिए हमें अपने दैनिक जीवन में प्राणायाम को अवश्य शामिल करना चाहिए। प्राणायाम या श्वास संबंधी व्यायाम हमारे श्वसन तंत्र को मजबूत करता है। योग शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है। मोदी ने छठे अंतर्रष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर कहा कि योग एकता की एक शक्ति के रूप में उभरा है और यह नस्ल, रंग, लिंग, आस्था और राष्ट्रों के आधार पर भेदभाव नहीं करता। उन्होंने कहा कि योग एक स्वस्थ ग्रह की हमारी चाह बढ़ाता है। दुनिया भर से ‘माय लाइफ-माय योग’ वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता में लोगों की भारी भागीदारी योग की बढ़ती लोकप्रियता को दर्शाती है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All