एलओसी पर हिमस्खलन में 4 सैनिक शहीद

जम्मू, 4 दिसंबर (हप्र/ एजेंसी) उत्तर कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास हिमस्खलन की दो घटनाओं में 4 सैनिक शहीद हो गये। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि कुपवाड़ा जिले के तंगधार इलाके में मंगलवार दोपहर सेना की एक चौकी हिमस्खलन की चपेट में आ गयी थी। इसमें 4 जवान फंस गये थे। बुधवार को 3 जवानों के शव मिले, जबकि एक जवान को जिंदा बचा लिया गया। एक अन्य घटना में बांदीपुरा जिले में गुरेज सेक्टर के दावर इलाके में सेना का पैदल दल हिमस्खलन की चपेट में आ गया, जिसमें 2 जवान फंस गए। अधिकारियों ने बताया कि इनमें से एक को जिंदा बचा लिया गया, जबकि अन्य जवान अखिल शहीद हो गये। तंगधार में शहीद हुए सैनिकों की पहचान राजेंद्र सिंह, अमित और कमल कुमार की तौर पर की गयी है। इससे पहले नवंबर में सियाचिन ग्लेशियर पर हिमस्खलन में 4 जवान शहीद हो गए थे। दो पोर्टरों की भी मौत हुई थी। बाद में हुई अन्य घटना में 2 सैनिक शहीद हो गए थे।

बर्फबारी ने कई जगह तोड़ी तारबंदी

जम्मू (हप्र) : कश्मीर के पहाड़ों पर जबर्दस्त बर्फबारी ने एलओसी के इलाकों में तबाही मचाई है। खासकर सैन्य प्रतिष्ठान और सैनिक इसके शिकार हो रहे हैं। घुसपैठियों को रोकने की खातिर की गई तारबंदी भी कई स्थानों पर टूट गई है। सेना के प्रवक्ता के अनुसार फिलहाल यह अंदाजा लगाना कठिन है कि तारबंदी के कितने किलाेमीटर के हिस्से को क्षति पहुंची है, क्योंकि एलओसी के ऊंचाई वाले इलाकों में फिलहाल बर्फबारी रुकी नहीं है। तारबंदी क्षतिग्रस्त होने के साथ ही आतंकी घुसपैठ की आशंका बढ़ने पर सेना ने एलओसी पर सतर्कता बढ़ा दी है। स्थिति यह है कि कई चौकियां 10-15 फुट बर्फ के नीचे दब चुकी हैं, इसके बावजूद जवान तैनात हैं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All