हिसार में 2 नर्स समेत कोरोना के 4 नये मामले

कुमार मुकेश/हप्र हिसार, 22 मई निजी अस्पताल के महिला नर्स सहित 2 कर्मचारियों समेत 4 लोगों में शुक्रवार को कोरोना की पुष्टि हुई है। नये संक्रमित लोगों में दिल्ली से आया हांसी का एक चालक व बडाला गांव के सिक्योरिटी गार्ड के संपर्क में आया व्यक्ति भी शामिल है। इसके साथ अब हिसार में 10 एक्टिव केस हो गये हैं। स्वास्थ्य विभाग ने 8 डॉक्टर समेत 60 लोगों को क्वारेंटाइन किया है। पुलिस कर्मचारी एवं जींद के पेगां गांव निवासी 50 वर्षीय व्यक्ति 19 अप्रैल को मुंबई से अपने गांव आया था। स्वास्थ्य विभाग ने उसको क्वारेंटाइन कर दिया। मई में वह जिंदल अस्पताल में आया तो पता चला कि उसको लंग कैंसर है। अस्पताल ने कोरोना जांच के लिए सैंपल लिया और फिर मरीज अपनी मर्जी से डिस्चार्ज हो गया। मरीज की मेडिकल हिस्ट्री में अस्पताल ने कोरोना संदिग्ध का जिक्र नहीं किया था। इसके बाद यह व्यक्ति एंबुलेंस में आधार अस्पताल गया जहां वह एंबुलेंस चालक, एक डॉक्टर व 4 कर्मचारियों के संपर्क में आया। इसके बाद अन्य एंबुलेंस के माध्यम से वह सर्वोदय अस्पताल में गया जहां पर वह 7 डॉक्टरों समेत 32 कर्मचारियों व 11 मरीजों के संपर्क में आया। इन्हीं में से की गई जांच के दौरान सर्वोदय अस्पताल की सुभाष नगर निवासी एक नर्स, और चौधरीवास गांव निवासी एक पुरूष नर्स पॉजिटिव मिले हैं। इसके अलावा हांसी के तिकोना पार्क निवासी एक ड्राइवर जो दिल्ली से आया था, वह भी पॉजिटिव मिला है। वहीं बडाला गांव के कोरोना संक्रमित सिक्योरिटी गार्ड के संपर्क में आने वाला एक व्यक्ति भी अब पॉजिटिव मिला है। ‘अस्पतालों से मांगा जवाब’ सिविल सर्जन डॉ. योगेश शर्मा ने 4 नये कोरोना पॉजिटिव मामलों की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि इस बारे में जिंदल अस्पताल, सर्वोदय अस्पताल व आधार अस्पताल प्रशासन को नोटिस जारी करके जवाब मांगा है ताकि लापरवाही तय की जा सके।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

समाज की सोच भी बदलना जरूरी

समाज की सोच भी बदलना जरूरी