सैलजा ने उठाया मुद्दा, केंद्र सरकार से कार्रवाई की मांग

चंडीगढ़, 3 दिसंबर (ट्रिन्यू) हरियाणा में अवैध खनन को लेकर कैग द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के बाद शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा ने मंगलवार को यह मुद्दा राज्यसभा में उठाया। उन्होंने कहा कि पूरे देश में अवैध खनन हो रहा है। 2018-19 में एक लाख 15 हजार 492 मामले अवैध खनन के पाए गए और यह बढ़ते ही जा रहे हैं। उन्होंने हरियाणा विधानसभा में खनन को लेकर रखी गई कैग रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि कैग रिपोर्ट में पाया गया है कि हरियाणा में अवैध खनन बड़े स्तर पर हो रहा है। इस रिपोर्ट में पाया गया है कि खनन ठेकेदार दोगुने या इससे अधिक खनन क्षेत्र में खनिजों का दोहन करते पाए गए हैं। यहां तक कि गैरकानूनी खनन के चलते नदी के बहाव का मुंह तक मोड़ दिया गया है। बांध की सीमा बदल दी गई है और गैरकानूनी पुल बनाए गए हैं। कैग की रिपोर्ट में पाया गया है कि खनन ठेकेदार दोगुने क्षेत्र में खनिजों का दोहन कर राजस्व को चूना लगा रहे हैं। यदि यह सभी 95 खनन क्षेत्रों में लागू किया जाए तो यह माना जाए कि तीन चौथाई खनन क्षेत्रों में दोगुने या उससे अधिक क्षेत्रफल में खनन हो रहा है और सालाना पांच हजार करोड़ का चूना लगाया जा रहा है। कुमारी सैलजा ने आरोप लगाया कि यह घोटाला प्रशासन और सरकार की मिलीभगत के बिना नहीं हो सकता है, जब सरकार के पास सैटेलाइटइमेजरी है तो यह हजारों करोड़ों का घोटाला कैसे हो रहा है।

सरकार करवाएगी जांच : मूलचंद इस बीच हरियाणा के खनन एवं इस्पात मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि कैग की रिपोर्ट सबके सामने है। कांग्रेस जो आरोप लगा रही है वे सेल्फ कैलकुलेशन पर आधारित हैं। उन्होंने कहा कि यह पूरा मामला मुख्यमंत्री के संज्ञान में आ चुका है। सरकार ने इस मामले में जांच करवाने का फैसला किया है। जांच में पता चलेगा कि किस क्षेत्र में माइनिंग कम या ज्यादा हुई है। खनन की लंबित वसूली जल्द से जल्द शुरू होगी। खनन ठेकेदारों को सरकार की देनदारी चुकता करनी होगी।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नदियों के स्वास्थ्य पर निर्भर पर्यावरण संतुलन

नदियों के स्वास्थ्य पर निर्भर पर्यावरण संतुलन

स्वाध्याय की संगति में असीम शांति

स्वाध्याय की संगति में असीम शांति

दशम पिता : भक्ति से शक्ति का मेल

दशम पिता : भक्ति से शक्ति का मेल

मुकाबले को आक्रामक सांचे में ढलती सेना

मुकाबले को आक्रामक सांचे में ढलती सेना

शहर

View All