महिलाओं ने विधायक को पानी देकर कहा...पीकर देखो... खारा है...

चरखी दादरी, 25 जून (निस)

चरखी दादरी के गांव सांजरवास में मंगलवार को जलघर के गेट पर प्रदर्शन करते ग्रामीण। -निस

पिछले 5 वर्षों से पेयजल संकट झेल रहे गांव सांजरवास व फौगाट के ग्रामीणों के सब्र का बांध टूट गया। ग्रामीणों ने महिलाओं के साथ जलघर के समक्ष धरना देते हुए अल्टीमेटम दिया कि उनके गांव के जलघर में नहरी पानी नहीं पहुंचेगा तो वे विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे। धरने पर पहुंचे बाढड़ा से भाजपा विधायक ने आश्वासन दिया कि उनकी समस्या का जल्द समाधान कर दिया जाएगा। इस दौरान महिलाओं ने विधायक को खारा पानी देते हुए कहा कि वे पीकर दिखाएं। गांव सांजरवास व फौगाट से वर्षों से जलघर के टैंक सूख पड़े होने के चलते दोनों गांवों के ग्रामीणों ने 4 रोज पूर्व जलघर के गेट पर ताला जडक़र अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया था। मंगलवार को धरने पर दोनों गांवों से काफी संख्या में महिलाएं भी पहुंची और मांगों को लेकर सरकार व विभाग के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। धरने की अगुवाई पूर्व सरपंच जगदीश परमार ने की। वहीं, धरने पर पहुंचे बाढड़ा से भाजपा विधायक सुखविंद्र मांढी ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि संबंधित अधिकारियों व उपायुक्त से इस संबंध में बात हो चुकी है। टेंडर होने के बाद भी पाइप लाइन डालने की प्रक्रिया कैसे रुकी, इसके लिए कमेटी द्वारा जांच करवाई जाएगी और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। उन्होंने ग्रामीणों को समस्या का समाधान जल्द करने का आश्वासन दिया। कहा कि दोनों गांवों में पेयजल की सप्लाई गांव सांजरवास के जलघर से होती है, लेकिन पिछले 5 वर्षों से नहरी पानी नहीं पहुंचने के चलते ट्यूबवेलों से सप्लाई आ रही है। भूमिगत जलस्तर खारा होने के कारण ग्रामीणों काे या तो खारा पानी पीना पड़ रहा है या फिर पानी खरीदना पड़ता है। इस दौरान हरपाल चौहान, संजीत, बेदू ठेकेदार, संतोष, सावित्री, अशोक, संदीप, ओमप्रकाश व संजय इत्यादि उपस्थित थे। -विधायक बोले-करवाएंगे जांच, दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All