निजी स्कूल पर लटके मिले ताले, सरकारी में पढ़ेंगे बच्चे

हिसार, 10 दिसंबर (हप्र) हिसार के प्राइवेट स्कूल में आंतरिक परीक्षा में नंबर कम आने पर दो लड़कियों और 5 लड़कों के चेहरे पर कालिख पोतकर दूसरी कक्षाओं में घुमाने के मामले में मंगलवार को दूसरे दिन भी स्कूल बंद मिला। शिक्षा विभाग ने स्कूल के बच्चों को सरकारी स्कूल में शिफ्ट करने की योजना बनाई है ताकि बच्चों की पढ़ाई खराब ना हो। जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी धनपत राम ने बताया कि इसी मसले को लेकर शिक्षा विभाग ने फैसला लिया और मंगलवार को खंड शिक्षा अधिकारी को स्कूल में भेजा गया, लेकिन स्कूल बंद मिला। जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी धनपत राम ने बताया कि जो बच्चे इस स्कूल में पढ़ते थे, उनकी पढ़ाई खराब ना हो, इसके लिए बकायदा पास के किसी सरकारी स्कूल में व्यवस्थाएं की जा रही है। अगर बच्चों को एडमिशन के लिए दिक्कत आती है, तो उसे दूर कर दिया जाएगा। इसके साथ ही अधिकारी ने बताया कि जिला के अन्य स्कूलों को भी वैसे तो समय-समय पर नियमों की पालना का आह्वान करते रहते है, लेकिन फिर भी भविष्य में किसी स्कूल में ऐसा दोबारा ना हो, इसे लेकर भी दोबारा से स्कूलों के संचालकों को कहा जाएगा। शिक्षा विभाग के अधिकारी के अनुसार जिस स्कूल का यह मामला है, यह स्कूल अस्थाई मान्यता प्राप्त है। उन्होंने बताया कि अभिभावकों या फिर किसी भी तरफ से इस पूरे मसले को लेकर उन्हें कोई लिखित में शिकायत नहीं मिली है। इस बारे में परिजनों के हंगामे के बाद पुलिस एक दिन बाद सक्रिय हुई थी और सोमवार को जुवेनाइल जस्टिस एक्ट समेत कई धाराओं में केस दर्ज किया था। जांच जारी, अभी तक गिरफ्तारी नहीं इस पूरे मामले में जांच कर रहे डीएसपी अशोक कुमार का कहना है कि अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। साथ ही उन्होंने कहा कि स्कूल परिसर से कोई सीसीटीवी अभी बरामद नहीं हुआ है। पुलिस अभी जांच कर रही है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

मुख्य समाचार

मरीजों की संख्या 23 लाख के पार

मरीजों की संख्या 23 लाख के पार

कोरोना 24 घंटे में 834 की मौत। रिकॉर्ड 56,110 हुए ठीक

प्रदेश में 12वीं के छात्रों को बांटे स्मार्टफोन

प्रदेश में 12वीं के छात्रों को बांटे स्मार्टफोन

अमरेंद्र सरकार की बहुप्र​तीक्षित स्मार्टफोन योजना शुरू

शहर

View All