जुई-बाढड़ा सड़क मार्ग पर लगाया जाम

बाढड़ा, 9 अक्तूबर (निस) कस्बे के जुई रोड पर सरकारी बस सेवा की कमी के विरोध में बुधवार को छात्राओं ने गांव काकड़ौली सरदारा के मुख्य बस स्टेंड पर जाम लगा दिया। इससे दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। मौके पर मौजूद मौजिज ग्रामीणों ने रोडवेज विभाग के जिला निरीक्षक से संपर्क किया तो उन्होंने बृहस्पतिवार से ही बस सेवा बहाल करने की बात कही जिस पर ग्रामीणों ने छात्राओं को समझा-बुझा जाम खुलवाया। भिवानी-बाढड़ा के बीच सरकारी बसों की संख्या में कमी करने व निर्धारित शैड्यूल पर नहीं चलने से छात्राओं को मजबूरन निजी वाहनों में सफर करना पड़ता है। इसके विरोध में छात्राओं ने गांव काकड़ौली सरदारा के मुख्य बस स्टेंड पर जाम लगा दिया। दैनिक यात्रियों व छात्राओं ने बताया कि बसों की संख्या कम होने के कारण प्रतिदिन अनेक समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। छात्राएं इस रूट पर बस सेवा को लेकर पहले भी दो बार रोष प्रकट कर चुकी हैं लेकिन हर बार कोरे आश्वासन मिल रहे हैं। आज से बस चलने का मिला भरोसा ग्रामीणों ने जिला निरीक्षक रमेश मोर से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि इस सड़क मार्ग पर विभाग यथासंभव बृहस्पतिवार को ही बस सेवा संचालित कर देगा और अगले कुछ दिनों में यहां पर बसों का आवागमन सुचारू रहेगा। इसके बाद छात्राओं ने सड़क मार्ग बहाल किया। सड़क जाम की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी तेलूराम भी मौके पर पहुंचे लेकिन उनके पहुंचने से पहले ही सड़क मार्ग पर यातायात सुचारू हो गया। पहले भी उठ चुकी है मांग बाढड़ा क्षेत्र के युवा भारी संख्या में भिवानी पढ़ने के लिए जाते हैं। वहीं भिवानी जाने वाले दैनिक यात्रियों की संख्या भी बहुत ज्यादा है। लेकिन सुबह के समय एक या दो ही बस भिवानी जाती हैं। जिसके चलते यात्रियों और युवाओं को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। पहले भी कई बार क्षेत्र के लोग प्रशासन को बसों की संख्या बढ़ाने की मांग कर चुके हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

मुख्य समाचार

दिल्ली, गुजरात में हालात बदतर

दिल्ली, गुजरात में हालात बदतर

देश में कोरोना केस 91 लाख के पार, सुप्रीम कोर्ट ने कहा-

बैकफुट पर हरियाणा सरकार

बैकफुट पर हरियाणा सरकार

एमबीबीएस फीस बढ़ोतरी पर बवाल

ट्रंप दौरे के दौरान खालिद ने रची दिल्ली में दंगे की साजिश

ट्रंप दौरे के दौरान खालिद ने रची दिल्ली में दंगे की साजिश

पूरक आरोपपत्र में पुलिस का दावा

शहर

View All