कपास की फसल में गुलाबी सुंडी का प्रकोप

उचाना/जींद, 6 जुलाई (हप्र)

कपास की फसल में मौजूद गुलाबी सुंडी। -हप्र

कपास की फसल में इन दिनों गुलाबी सुंडी का प्रकोप देखने को मिल रहा है। जिसके चलते कृषि विभाग ने किसानों को नीम आधारित कीटनाशक दवा का छिड़काव करने की सलाह दी है। सोमवर को खंड कृषि अधिकारी कुलदीप शर्मा ने बताया कि उचाना खंड में खरीफ 2020 के दौरान लगभग 30 हजार हेक्टेयर में कपास की बिजाई की गई है। इस सीजन में करसिंधु, दुर्जनपुर, उचाना खुर्द में अगेती बिजाई की गई फसल में यह प्रकोप देखा गया है। किसानों को सलाह देते हुए खंड कृषि अधिकारी ने कहा कि वे नियमित तौर पर अपनी फसल का निरीक्षण करते रहे। प्रकोप होने पर नीम आधारित कीटनाशक का 10-10 दिन के अंतराल पर तीन बार स्प्रे करें तथा शुरूवाती स्टेज पर किसी अन्य रासायनिक कीटनाशक का प्रयोग न करें। खंड कृषि अधिकारी ने बताया कि बीटी कपास में बीते कुछ सालों के दौरान यह पाया गया कि कुछ प्रकार की सुंडियों के प्रति प्रतिरोधक क्षमता कम हुई है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All