व्रत के व्यंजन

नवरात्रि के दौरान पूरे 9 दिनों का व्रत रखने वालों के सामने परेशानी यह होती है कि शरीर का एनर्जी लेवल बरकरार कैसे रखा जाए। फलों के अलावा कुछ और चीजें भी फलाहारी व्यंजनों में गिनी जाती हैं। जानें इन्हें बनाने की विधि के बारे में....

कुट्टू पनीर रोल सामग्री- 250 ग्राम कूटू का आटा काली मिर्च स्वादानुसार सेन्धा नमक स्वादानुसार बारीक कटा हुआ हरा धनिया पनीर 150 ग्राम टमाटर कटे हुए खीरा कटा हुआ हरी चटनी हंग कर्ड (दही) 2 चम्मच तेल विधि: कुटू के आटे में नमक, काली मिर्च और हरा धनियां मिलाकर पानी की सहायता से घोल बना लीजिये। तवा गैस पर रखिये, गरम कीजिये, एक बड़ा चम्मच घोल तवे पर डालिये और चम्मच से गोल-गोल चलाते हुये पतला फैलाइये। निचली सतह ब्राउन होने तक सेंक कर पलट दीजिये। दूसरी तरफ भी ब्राउन होने तक सेंकिये। तवे से उतार कर रख लीजिए। सारे बेस इसी तरह बनाकर तैयार कर लीजिये। अब कढ़ाई में 2 चम्मच तेल डालिये। तेल गरम होने पर लंबे कटे हुए पनीर को डालें। काली मिर्च और नमक डालकर थोड़ा सेंकें। 1 मिनट बाद निकाल लीजिये। अब एक बेस लें , उस पर हंग कर्ड (दही) लगाइये। पनीर की लेयर लगाएं। हरी चटनी डालिये। खीरा और टमाटर की स्लाइस लगाएंं। बारीक कटा हुआ हरा धनिया डालिये, दोनों तरफ से फोल्ड कर दीजिये। तैयार है कुटू पनीर रोल।

साबूदाना केसरिया खीर सामग्री - साबूदाना - ½ कप दूध - 1 लीटर चीनी -100 ग्राम काजू - 10-12 (बारीक कटे हुए) बादाम - 10-12 (बारीक कटे हुए) किशमिश - 2 छोटी चम्मच केसर के धागे - 15-20 (¼ कप दूध में भिगोये हुए) इलायची - 5-6 (बारीक पिसी हुई) पिस्ते - 15-20 (बारीक कटे हुए) विधि: साबूदाना को अच्छी तरह से धोकर 1 घंटे के लिए साफ पानी में भिगो कर रख दें। 1 घंटे बाद साबूदाना से अतिरिक्त पानी हटा दीजिए और भीगा हुआ साबूदाना तैयार है। खीर बनाने के लिए, एक बड़े बर्तन में 1 लीटर दूध गैस पर गरम होने के लिए रख दीजिए। दूध में उबाल आने पर इसमें भीगा हुआ साबूदाना डाल दीजिए। तेज आंच पर लगातार चलाते रहिये जब तक इसमें उबाल न आ जाए । उबाल आने पर, इसमें किशमिश डाल दीजिए और थोड़े से बादाम, काजू और केसर वाला दूध भी डाल दीजिए और मिक्स कर दीजिये । अब इसे मध्यम आंच पर गाढ़ा होने तक पकाएं। खीर गाढ़ी होकर तैयार है, इसमें चीनी और इलायची पाउडर डाल कर अच्छी तरह मिक्स कर दीजिए। खीर बनकर तैयार है। खीर के हल्का ठंडा होने पर इसे प्याले में निकाल लीजिए। खीर को बादाम, पिस्ते से गार्निश कीजिए।

फलहारी पनीर पकौड़ा सामग्री – पनीर - 500 ग्राम समा के चावल - ½ कप (भिगोकर पीसे हुए) सिंघाड़े का आटा - ¼ कप हरा धनिया - 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ) हरी मिर्च - 1 (बारीक कटी हुई) काली मिर्च पाउडर- 1/2 छोटी चम्मच सेंधा नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार तेल - पकौड़े तलने के लिए विधि: पकौड़े बनाने के लिए समा के चावलों को अच्छे से धोकर साफ पानी में 1 घंटे के लिये भिगो दीजिए। बाद में चावलों से अतिरिक्त पानी हटाकर इन्हें मिक्सर जार में डालकर पीस लीजिए। पिसे हुए चावल को प्याले में निकाल लीजिए और इसमें सिंघाड़े का आटा डालकर पकौड़े के बैटर जैसा घोल तैयार कर लीजिए। मिश्रण में काली मिर्च का पाउडर, सेंधा नमक, बारीक कटी हरी मिर्च, बारीक कटा हरा धनिया डालकर सभी चीजों को अच्छे से मिलने तक मिक्स कर लीजिए। पकौड़े के लिए बैटर बनकर तैयार है। अब पनीर को इस तरह से दो भाग करते हुए काटिए कि नीचे से यह जुड़ा रहे। सारे पनीर के टुकड़ों को इसी तरह काटकर तैयार कर लें। पनीर के कटे हुए प्रत्येक भाग के बीच मे थोड़ा सा काली मिर्च और सेंधा नमक का मसाला लगाकर बन्द करके प्लेट में रखें। इसी तरह सारे पनीर के टुकड़ों में मसाला भरकर रख दें। कड़ाही में तेल डालकर गरम कीजिये। पनीर का एक टुकड़ा लेकर, बैटर में लपेटिए और कड़ाही में डाल दीजिए। नीचे से गोल्डन ब्राउन होने पर इन्हें पलट दें ओर दूसरी ओर से भी गोल्डन ब्राउन होने पर मीडियम गैस पर तल लें। फिर, पकौड़ों को प्लेट में निकाल लें। क्रिस्पी पकौड़े बनकर तैयार हैं। इन्हें गरमा गरम ही हरे धनिये की फलाहारी चटनी के साथ परोसिये और खाइये।

समा कतली सामग्री – समा के चावल- ½ कप ताजा दही- ½ कप घी- 1 से 2 टेबल स्पून हरा धनिया- 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ) भुने मूंगफली के दाने- 2 टेबल स्पून (दरदरे कुटे हुए) सेंधा नमक- स्वादानुसार हरी मिर्च- 2 (बारीक कटी हुई) जीरा- ½ छोटी चम्मच विधि: समा के चावल को पानी में 2 घंटे के लिए भिगो दें। अब इन्हें दही के साथ मिक्सर जार में दरदरा पीसें। पतला घोल तैयार कर इसे पकाने के लिए पैन में 1 छोटा चम्मच तेल डालें। तेल गरम होने पर जीरा तड़काएं। गैस धीमी करके बारीक कटी हरी मिर्च डालकर जरा सा भून लें। फिर, पैन में दही-चावल का घोल डालें। लगातार चलाते रहें, साथ में 1.5 कप पानी और सेंधा नमक भी डालें। घोल को तेज़ आंच पर लगातार चलाते हुए उबाल आने तक पकाएं। मिश्रण को गाढ़ा करने के लिए इसे लगातार 5 मिनट तक मध्यम आंच पर पकाएं। गैस बंद कर दें। मिश्रण में दरदरी कुटी हुई मूंगफली और हरा धनिया डालकर मिक्स कर दीजिए। मिश्रण जमाने के लिए एक थाली को घी से चिकना कर लीजिए और तैयार मिश्रण को थाली में डालिये। मिश्रण को 1/2 इंच की मोटाई में जमा लीजिए और घी की चम्मच से एक जैसा फैलाएं। 15 मिनट में कतली जमकर तैयार है। पसंद के अनुसार छोटे या बड़े टुकड़ों में काट लीजिए। तवे पर थोड़ा सा घी डालकर इसे चारों और फैलाएं। तवे पर कतलियां लगा दीजिए और दोनों तरफ से सेंक लीजिये। व्रत के लिए समा के चावल की कतलियां एकदम तैयार हैं। इन कतलियों को व्रत वाली हरे धनिये की चटनी के साथ सर्व कीजिए।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

मुख्य समाचार

मरीजों की संख्या 23 लाख के पार

मरीजों की संख्या 23 लाख के पार

कोरोना 24 घंटे में 834 की मौत। रिकॉर्ड 56,110 हुए ठीक

प्रदेश में 12वीं के छात्रों को बांटे स्मार्टफोन

प्रदेश में 12वीं के छात्रों को बांटे स्मार्टफोन

अमरेंद्र सरकार की बहुप्र​तीक्षित स्मार्टफोन योजना शुरू

शहर

View All