विधायक की मौत को लेकर उत्तरी बंगाल में भाजपा का बंद

कोलकाता, 14 जुलाई (एजेंसी) पश्चिम बंगाल में एक विधायक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद भाजपा ने उत्तरी बंगाल में मंगलवार को 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है और इस दौरान पार्टी समर्थकों की पुलिस के साथ झड़प हुई और बसों पर पत्थर फेंके जाने की घटना भी सामने आई। बंद सुबह 6 बजे शुरू हुआ और इसका मिला-जुला असर देखने को मिला। कुछ स्थानों पर दुकानें बंद थीं और सड़कों पर सार्जनिक वाहन कम संख्या में दिखाई पड़े। हेमताबाद के विधायक देबेंद्र नाथ रे का शव उत्तरी दिनाजपुर जिले में बिंदल गांव में स्थित उनके घर के निकट बंद पड़े एक दुकान के बाहर छत से लटकते हुए मिला था। पश्चिम बंगाल पुलिस ने बताया कि विधायक के शर्ट की जेब से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें उन्होंने अपनी मौत के लिए 2 लोगों को जिम्मेदार बताया है। हालांकि, रे के परिवार के सदस्यों और भाजपा ने दावा किया है कि उनकी हत्या हुई और इस संबंध में सीबीआई जांच कराने की मांग की है। बंद को लागू करने की कोशिश के दौरान भाजपा समर्थकों की झड़प कूचबिहार कस्बे में पुलिस के साथ हो गई। भाजपा समर्थक उत्तरी बंगाल राज्य परिवहन निगम डिपो से बसों को आगे जाने नहीं दे रहे थे। मालदा और उत्तरी दिनाजपुर में भी बंद का मिला-जुला असर देखने को मिला है। राष्ट्रपति से मिले भाजपा नेता, प.बंगाल सरकार बर्खास्त करने की मांग नयी दिल्ली : भाजपा नेताओं के एक प्रतिनिधमंडल ने मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की और पश्चिम बंगाल में उत्तरी दिनाजपुर जिले के हेमताबाद के विधायक देबेंद्र नाथ रे की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत की सीबीआई जांच की मांग के साथ-साथ राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार को बर्खास्त करने की भी मांग की। भाजपा महासचिव व पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय के नेतृत्व में राष्ट्रपति से मिलने गए प्रतिनिधमंडल ने इसके साथ ही पश्चिम बंगाल विधानसभा को भंग करने और राष्ट्रपति कोविंद से इस संबंध में आवश्यक कदम उठाने की मांग की। राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से बातचीत में विजयवर्गीय ने कहा, ‘हमें वहां की किसी भी एजेंसी पर कोई विश्वास नहीं है। हमने राष्ट्रपति जी से मांग की है कि इस प्रकरण की सीबीआई जांच होनी चाहिए।’ विजयवर्गीय के अलावा इस प्रतिनिधमंडल में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो, राज्यसभा सदस्य स्वपन दासगुप्ता, लोकसभा सदस्य राजू बिष्ट और भाजपा के संगठन मंत्री अरविंद मेनन शामिल थे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

मुख्य समाचार

वीआरएस के बाद बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की चुनाव लड़ने की अटकलें, फिलहाल किया इनकार!

वीआरएस के बाद बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की चुनाव लड़ने की अटकलें, फिलहाल किया इनकार!

कहा- बिहार की अस्मिता और सुशांत को न्याय दिलाने के लिए लड़ी ...