मतदाताओं की आवाज ‘विनम्रता’ से सुनेंगे

हांगकांग, 25 नवंबर (एजेंसी) सामुदायिक स्तर के चुनावों में लोकतंत्र समर्थकों को मिली शानदार जीत के बाद हांगकांग की विवादित नेता कैरी लैम ने सोमवार को कहा कि सरकार लोगों की आवाज ‘विनम्रता से सुनेगी’। हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक उम्मीदवारों ने शहर की 452 सदस्यीय 18 जिला परिषदों में भारी जीत दर्ज कर शानदार बहुमत हासिल किया। इन सीटों पर चीन समर्थकों का दबदबा था। परिणाम चीन और मुख्य कार्यकारी कैरी लैम को करारा झटका हैं जिन्होंने राजनीतिक सुधार की मांग को खारिज कर दिया था और बार-बार कहा था कि अधिकतर लोग उनके प्रशासन के मौन समर्थक हैं और प्रदर्शन विरोधी हैं। लैम ने सरकार की ओर से जारी एक बयान में कहा, ‘सरकार नागरिकों की राय निश्चय ही विनम्रता से सुनेगी और उनपर गंभीरता से विचार करेगी।’ हालांकि लैम ने यह नहीं बताया कि उनका अगला कदम क्या होगा। उधर विरोधियों ने उनसे अपील की कि वह शहर की विधानपालिका एवं नेतृत्व के लिए सीधे चुनाव कराने और प्रदर्शनकारियों के खिलाफ पुलिस की कथित बर्बरता की जांच समेत मांगों की पांच बिदुओं वाली सूची को स्वीकार करें। हांगकांग की सबसे बड़ी सरकार विरोधी पार्टी डेमोक्रेटिक पार्टी के अध्यक्ष वु ची वेई ने कहा, ‘लोगों ने सबसे शांतिपूर्ण तरीके से सरकार को बताया कि हम हांगकांग में पुलिस का शासन और तानाशाही सत्ता को स्वीकार नहीं करेंगे।’ लेबर पार्टी ने भी कहा कि सरकार को लोगों की राय का सामना करना चाहिए। उल्लेखनीय है कि 18 जिला परिषदों के चुनाव में 71 फीसदी मतदाताओं ने बोट दिए, लोकतंत्र समर्थक उम्मीदवारों ने 388 सीटें जीतीं, चीन समर्थकों को केवल 59 सीटें मिली। ‘चुनाव मायने नहीं रखता, हांगकांग हमारा है’ तोक्यो : चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने सोमवार को कहा कि हांगकांग चीन का हिस्सा है। चुनावों में ‘क्या हो रहा है, मायने नहीं रखता’ है। वांग ने तोक्यो में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ मुलाकात के बाद पत्रकारों से कहा, ‘यह स्पष्ट है कि हांगकांग चीन और उसके विशेष प्रशासनिक क्षेत्र का हिस्सा है और क्या हो रहा है, यह मायने नहीं रखता।’ उन्होंने कहा, ‘‘हांगकांग से छेड़छाड़ करने और उसकी समृद्धि एवं स्थिरता को नुकसान पहुंचाने की कोई भी कोशिश सफल नहीं होगी।’

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें