प्रेस लिखे वाहन में यूपी से आए 3 लोग भेजे शेल्टर होम

योगराज भाटिया/निस बीबीएन, 31 मार्च प्रदेश व जिलों से बाहर जाने व आने वाले लोगों पर लगाई गई पूर्ण पाबंदी के बाद पुलिस ऐसे लोगों को जहां शेल्टर होम भेज रही है, वहीं लोगों को मकानों से बाहर निकले ऐसे 32 लोगों को वापस भेजा गया है। प्रेस लिखे वाहन में यूपी के शामली से नालागढ़ पहुंचे लोगों पुलिस ने इन्हें बीएम जैन स्कूल नालागढ़ में बने शेल्टर होम में भेज दिया है, जहां यह लोगों को क्वारंटीन किया गया है। तीन लोग यूपी के शामली से नदीन अहमद, मोहम्मद अंसर व नवाब एक वाहन यूपी-23ए-1011 में सवार होकर आए थे और वाहन पर एनडी न्यूज चेन्नई लिखा हुआ था। सूचना मिलते ही पुलिस ने इस वाहन को नालागढ़ में पकड़ा और तीनों लोगों को बीएम जैन स्कूल नालागढ़ में बनाए गए शेल्टर होम में भेज दिया है। किराये के मकानों को खाली करके आए 32 लोगों को एसएचओ बद्दी लखवीर सिंह की अगुआई वाली टीम ने वापस कमरों में भेजा और मकान मालिकों को उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात कही गई है।

घरों से बाहर निकले तो 14 दिन रखे जाएंगे शेल्टर होम में औद्योगिक हब बीबीएन में आने व बाहर जाने वाले लोगों को तो प्रशासन व पुलिस की टीमें शेल्टर होम में भेज ही रही है, वहीं अब कर्फ्यू में मिली छूट के अलावा अनावश्यक रूप से घूमने वाले ऐसे लोगों को भी पुलिस व प्रशासन की टीमें 14 दिनों के लिए शेल्टर होम भेजेगी। प्रदेश व जिला की सीमाएं सील होने के बाद आवागमन करने वाले लोगों को बार्डर पर रोककर ऐसे 550 लोगों को शेल्टर होम में भेजा जा चुका है। एसपी रोहित मालपानी ने कहा कि सीमाओं पर आने वाले लोगों को करीब 550 लोगों को शेल्टर होम में भेजा गया है। एसडीएम नालागढ़ प्रशांत देष्टा ने कहा कि प्रशासन द्वारा बाहर से आने व जाने वालों के लिए शेल्टर होम बनाए गए है, जहां पर पूर्ण प्रबंध किए गए हैं।

बिना परमिट गाड़ी चलाने पर केस दर्ज फार्मा कंपनी के नाम पर गाड़ी सड़क पर चलाने और कोई परमिट व दस्तावेज न दिखाने पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज कर लिया है। मुख्य आरक्षी बद्दी थाना रमेश कुमार के रूक्के पर दर्ज मामले के तहत पुलिस की टीम साई रोड़ बद्दी में गश्त कर रही थी, तो शाम के समय एक इनोवा गाड़ी एचपी-93-1210 आई, जिसे चालक गिरीराज किशोर बंसल निवासी गांव मालियां की धानी रोड नंबर-2 मुर्लियांपुर, जिला जयपुर चला रहा था। दस्तावेज जांचने पर पाया गया कि यह गाड़ी मैसर्ज स्माईलेक्स हैल्थकेयर ड्रग कंपनी 23 ईपीआईपी-1 झाड़माजरी बद्दी के नाम पर दर्ज पाई गई। चालक को वाहन चलाने के बारे में लाइसेंस व परमिट दिखाने के लिए पूछा गया तो वह कोई ऐसा दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर सका है, जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

समाज की सोच भी बदलना जरूरी

समाज की सोच भी बदलना जरूरी