पीएम मोदी ने बनाया नया रिकॉर्ड

चैनल चर्चा

प्रदीप सरदाना टीआरपी के मामले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सम्बोधन ने अभी तक के तमाम पुराने रिकॉर्ड तोड़ कर एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया है, जो बड़े बड़ों को हैरत में डाल देता है। इन दिनों हम जहां ‘रामायण’ धारावाहिक की टीआरपी से हैरान हैं। वहीं पिछले कुछ बरसों में, देश में सबसे ज्यादा टीआरपी क्रिकेट प्रसारण को मिलती रही है। बीते दिनों सबसे अधिक टीआरपी आईपीएल-2019 के फ़िनाले को मिली, जिसका प्रसारण 13 करोड़ 30 लाख लोगों ने देखा। लेकिन ‘बार्क’ की हालिया रिपोर्ट के अनुसार जब गत 24 मार्च को 21 दिन के पहले लॉकडाउन’ को लेकर पीएम मोदी ने देश के नाम अपना सम्बोधन दिया तब उसे 19 करोड़ 65 लाख टीवी दर्शकों ने लाइव देखा। जो ‘रामायण’ और आईपीएल से कहीं ज्यादा है। यह आंकड़ा तो सिर्फ टीवी के उस लाइव प्रसारण का है। जबकि पीएम मोदी के उस सम्बोधन को नरेन्द्र मोदी के अपने और पीएमओ इंडिया के यू ट्यूब चैनल्स पर भी करोड़ों लोगों ने अलग से देखा। नरेन्द्र मोदी और पीएमओ इंडिया के ट्विटर और फेसबुक लाइव पर भी उनके देश के नाम इस सम्बोधन को देखने वालों की संख्या भी करोड़ों में है। इन सबके साथ देश विदेश के विभिन्न न्यूज़ चैनल्स पर भी करोड़ों लोग इसे अलग से देखते रहे। फिर यदि हॉट स्टार, जियो टीवी, सोनी लिव सहित विभिन्न डिजिटल प्लेटफॉर्म पर दिखाये पीएम के इस सम्बोधन के दर्शकों की संख्या जोड़ ली जाये तो यह आंकड़ा कहां पहुंचेगा उसका हिसाब लगाना भी आसान नहीं है। बड़ी बात यह है कि पीएम मोदी के हर देश के नाम टीवी सम्बोधन की टीआरपी उनके अपने पुराने रिकॉर्ड को तोड़कर एक नया कीर्तिमान बना रही है। उनके 14 अप्रैल के सम्बोधन के आंकड़े अभी आने हैं। दूरदर्शन पर अब ‘उत्तर रामायण’ हाल ही में दूरदर्शन देश के तमाम टीवी चैनल्स को पीछे छोड़कर देश का नंबर वन चैनल बन गया है। जिससे बड़े- बड़े मनोरंजन चैनल्स ज़ी टीवी, कलर्स, स्टार प्लस, सब टीवी और सोनी टीवी पिछड़ गये हैं। जो दूरदर्शन पिछले करीब 10 बरसों से टॉप 10 में भी अपनी जगह नहीं बना पा रहा था, वह एक ही सप्ताह में शिखर पर पहुंच गया। यह चमत्कार हुआ रामजी की कृपा से। जी हां ‘रामायण’ धारावाहिक के पुनर्प्रसारण को करोड़ों लोगों के देखने से दूरदर्शन टीआरपी में सभी से आगे निकल गया। इससे दूरदर्शन और सूचना प्रसारण मंत्रालय बहुत खुश है। हालांकि ‘रामायण’ का प्रसारण तो अब जल्द समाप्त हो जाएगा। लेकिन ‘रामायण’ के तुरंत बाद उसकी जगह, उसी समय में ‘उत्तर रामायण’ का प्रसारण शुरू करने की योजना बनाई गयी है। इस संबंध में जब हमने दूरदर्शन के अतिरिक्त महानिदेशक पी के सुभाष से बात की तो उन्होंने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा, ‘रामायण’ कथा को आगे बढ़ाते हुए हमने ‘उत्तर रामायण’ को दिखाने का फैसला किया है। ‘उत्तर रामायण’ को ‘लव कुश’ के नाम से भी जाना जाता है।’ इसका निर्माण भी रामानन्द सागर ने किया था। इस लव कुश गाथा के 39 एपिसोड हैं। इससे लॉकडाउन के इस नए चरण में 3 मई तक इसका प्रसारण सुगमता से होता रहेगा। बता दें कि इसमें ‘रामायण’ के ही समस्त कलाकार अपनी पूर्ववत भूमिकाओं में रहेंगे। संगीत भी रवीन्द्र जैन का ही है। जबकि लव की भूमिका स्वप्निल जोशी और कुश की भूमिका मयूरेश ने निभाई है। श्वेता ने किया बेटे का हेयरकट टीवी की खूबसूरत अदाकारा श्वेता तिवारी लॉकडाउन के दिनों में घर में रहकर समय का सही सदुपयोग कर रही है। इन दिनों श्वेता सोनी चैनल के अपने शो ‘मेरे डैड की दुल्हन’ के लिए सुर्खियों में है। जिसमें श्वेता, गुनीत सिक्का की भूमिका में है। सभी सीरियल्स की शूटिंग रुकने के बाद चैनल इसके पूर्व प्रसारित एपिसोड को फिर से दिखा रहा है। इधर श्वेता घर में रहते हुए अपनी मनपसंद पुस्तकें पढ़ रही है। श्वेता को काल्पनिक और जादुई दुनिया से जुड़ी पुस्तकें काफी पसंद हैं। इधर श्वेता ने अपने बेटे रेयांश की हेयर कटिंग कर सभी को आकर्षित किया। जिसकी कुछ फोटो श्वेता ने इन्स्टाग्राम पर भी साझा कीं। श्वेता कहती हैं- ‘मैं जानती हूं अभी कुछ और दिन तक सैलून बंद रहेंगे। इसलिए मैंने खुद ही रेयांश का हेयर कट किया। मुझे उसे ड्रेसअप करना बहुत अच्छा लगता है। यकीन मानिए जब से मैंने उसकी कटिंग की है तब से वह और भी ज्यादा क्यूट लग रहा है।’ श्वेता यह भी कहती हैं कि यह निश्चय ही मुश्किल समय है और हमको भी मुश्किल फैसले लेने पड़ते हैं। इसलिए घर पर रहना ही सुरक्षित रहेगा। दूरदर्शन का डीडी रेट्रो दूरदर्शन ने अब अपना एक और नया चैनल शुरू कर दिया है, जिसका नाम है ‘डीडी रेट्रो’। जैसा कि इस चैनल के नाम से ही स्पष्ट है कि इस पर दूरदर्शन के कई पुराने हिट सीरियल फिर से दिखाये जाएंगे। ज़ाहिर है दूरदर्शन ने यह कदम हाल ही में प्रसारित अपने विभिन्न पुराने कार्यक्रमों की लोकप्रियता को देखते हुए उठाया है। डी डी रेट्रो में फिलहाल जिन पूर्व प्रसारित सीरियल को जगह दी गयी है उनमें महाभारत, बुनियाद, चाणक्य, श्रीमान श्रीमती, सर्कस, उपनिषद गंगा, शक्तिमान, ब्योंकेश बख्शी, जंगल बुक और देख भाई देख जैसे कार्यक्रम हैं। इनमें से अधिकांश कार्यक्रमों का पुनर्प्रसारण पहले ही डीडी नेशनल पर हो रहा है। जब हमने प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर वेम्पति से पूछा कि क्या डीडी रेट्रो की शुरुआत इसीलिए की जा रही है कि दूरदर्शन को हाल ही में अपने पुराने कार्यक्रमों पर अच्छे टीआरपी मिली है? इस पर शशि शेखर का जवाब था- ‘कुछ इसलिए भी है। लेकिन हम पहले भी अपने क्लासिक सीरियल्स आदि को दिखाने के लिए एक ऐसा चैनल शुरू करने का प्लान बना रहे थे। लेकिन लॉकडाउन को देखते हुए हमने इसे अभी शुरू कर दिया। अपने पुराने एक चैनल डी डी मेट्रो की तर्ज पर हमने इसका नाम डी डी रेट्रो रखा है। यह चैनल फिलहाल दूरदर्शन की फ्री डिश पर उपलब्ध हो गया है। लेकिन जल्द ही इसे सभी केबल ओपरेटर्स ठीक ऐसे ही दिखाएंगे जैसे दूरदर्शन के अन्य चैनल्स को दिखाते हैं। यह चैनल 24 घंटे चलेगा और जल्द ही इसमें कई और पुराने सीरियल को जोड़ा जाएगा।’ अंबेडकर पर एक और सीरियल पिछले कुछ समय से एंड टीवी पर बाबा साहब अंबेडकर को लेकर एक सीरियल ‘एक महानायक डॉ बी आर अंबेडकर’ पहले ही चल रहा है। लेकिन अब संविधान निर्माता अंबेडकर की 129 वीं जयंती पर स्टार भारत ने भी एक सीरियल ‘डॉ बाबा साहब अंबेडकर- एक महामानव की महागाथा’ लेकर आये हैं। स्टार भारत ने 14 अप्रैल को इसका प्रीमियर किया। सोमवार से शुक्रवार रात 8 बजे यह प्रसारित हो रहा है। यह सीरियल पहले मराठी में बना था और इसका प्रसारण स्टार प्रवाह पर हुआ था। लेकिन अब इसे हिन्दी में डब करके नए सिरे से प्रसारित किया जाएगा। सीरियल डॉ अंबेडकर के उस संदेश को प्रमुखता से दिखाएगा, जिसमें अंबेडकर कहते थे-‘एक धनवान आदमी हमारी स्वतन्त्रता, धन और सम्मान आदि तो छीन सकता है। लेकिन हमारी शिक्षा नहीं।’ अंबेडकर की भूमिका निभा रहे सागर देशमुख कहते हैं- मैं खुद को भाग्यशाली समझता हूं कि मुझे इस प्रेरणा दायक नायक का किरदार निभानेे का मौका मिला।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All