डीजल, पेट्रोल के बढ़ते दामों के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन

चंडीगढ़, 29 जून (ट्रिन्यू)

अमृतसर में सोमवार को कांग्रेस कार्यकर्ता पेट्रोल-डीजल मूल्यवृद्धि के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए। -विशाल कुमार

पेट्रोल तथा डीजल के मूल्यों में लगातार की जा रही बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस ने आज जगह-जगह प्रदर्शन किया। कांग्रेस नेताओं का आरोप था कि केंद्र सरकार कोरोना से बुरी तरह त्रस्त आम आदमी की जरा भी परवाह किये बिना मुनाफाखोरी करने में लगी हुई है। कांग्रेस नेताओं ने प्रदर्शन के दौरान केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए बढ़ते मूल्यों पर लगाम लगाने की मांग की तथा मूल्यवृद्धि वापस लेने की मांग करते हुए अधिकारियों को ज्ञापन सौंपे। शिमला (निस) : हिमाचल प्रदेश महिला कांग्रेस ने डीजल और पैट्रोल के बढ़ते दामों के विरोध में आज शिमला में धरना प्रदर्शन कर देश के राष्ट्रपति को उपायुक्त के माध्यम से एक ज्ञापन भेजा। महिला कांग्रेस अध्यक्ष जैनब चंदेल के नेतृत्व में महिलाओं ने उपायुक्त कार्यालय के बाहर देश में बढ़ती महंगाई के विरोध में सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि कोविड-19 के चलते देश के लोगों को महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है। जैनब चंदेल ने कहा कि देश आज गंभीर चुनौतियों से गुजर रहा है और सरकार अपना खजाना भरने में लगी है। उन्होंने कहा कि आज दुनिया के देशों में तेल की कीमतों में भारी कमी आई है लेकिन भारत में इसकी कीमतों में हर रोज बढ़ोतरी की जा रही है। बठिंडा (निस) : पेट्रोल-डीजल की बढ़ रही कीमतों को लेकर आज कांग्रेस कमेटी बठिंडा शहरी द्वारा केन्द्र सरकार के विरुद्ध रोष प्रदर्शन किया गया व जिलाधीश को मांगपत्र दिया गया। इसमें शहरी कांग्रेस अध्यक्ष अरुण वधावन, कांग्रेसी नेता जयजीत सिंह जौहल, केके अग्रवाल, टहल सिंह संधू, पवन मानी, राजन गर्ग, राज नंबरदार, अशोक प्रधान, जगरूप गिल एडवोकेट, अनिल भोला सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी वर्कर शामिल हुये। इन नेताओं ने कहा कि 2004 में जब केन्द्र में कांग्रेस सरकार थी तो उस समय पेट्रोल 35 रूपये व डीजल 22 रुपये था जबकि कच्चे तेल की कीमत 104 रूपये डालर प्रति बैरल थी। अब जब कच्चे तेल की कीमत 40 डालर प्रति बैरल से भी कम है तो केन्द्र की माेदी सरकार लोगों को लूट रही है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर केन्द्र सरकार ने तेल की कीमतें कम न की तो कांग्रेस जन आंदोलन तेज करेगी।

जिलाधीश को सौंपा मांगपत्र होशियारपुर (निस) : पेट्रोल एवं डीजल के मूल्यों में वृद्धि के विरोध में कांग्रेस की तरफ से कैबिनेट मंत्री सुन्दर शाम अरोड़ा की अगुवाई में जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय के समक्ष केन्द्र सरकार के खिलाफ धरना दिया गया। धरने के उपरांत कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने जिलाधीश को मांगपत्र भी सौंपा। मांगपत्र में कैबिनेट मंत्री सुन्दर शाम अरोड़ा ने कहा कि पकट्रोल एवं डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी ने देशवासियों को असीम पीड़ा एवं परेशानियां दी हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ पूरे देश कोरोना के कारण स्वास्थ्य एवं आर्थिक महामारी से लड़ रहा है तथा वहीं दूसरी तरफ मोदी सरकार पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों और उस पर लगने वाले उत्पादन शुल्क को बार-बार बढ़ाकर इस मुश्किल घड़ी में मुनाफाखोरी कर रही है। जिसकी जितनी निंदा की जाए कम है। अरोड़ा ने बताया कि मई 2014 में जब भाजपा ने केन्द्र में सत्ता संभाली थी तो पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 9.20 रुपये प्रतिलीटर एवं डीजल पर 3.46 रुपये प्रति लीटर था। पिछले 6 सालों में केन्द्र की भाजपा सरकार ने पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 23.78 रुपये प्रति लीटर एवं डीजल पर 28.37 रुपये प्रीत लीटर अतिरिक्त बढ़ोतरी कर दी है।

महंगाई पर जल्द लगाम लगाए सरकार हमीरपुर (निस) : जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र जार की अगुवाई में पूर्व संसदीय सचिव अनीता वर्मा, विधायक इंद्रदत्त लखनपाल, पूर्व विधायक कुलदीप पठानिया के अतिरिक्त जिले के वरिष्ठ कांग्रेस पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने सोमवार को स्थानीय बाजार में प्रदर्शन करते हुए जिला उपायुक्त हरीकेश मीणा के माध्यम से सरकार को ज्ञापन भेजा और मांग की कि जल्द बढ़ती महंगाई पर लगाम लगाई जाए। जिला अध्यक्ष राजेन्द्र जार ने कहा कि अब तो हद हो गई है और डीजल और पेट्रोल के दाम कम होने के बजाय बढ़ रहे हैं। पूर्व संसदीय सचिव अनीता वर्मा ने कहा कि महंगाई की मार से सभी वर्ग परेशान हैं और सरकार कुछ नहीं कर रही है। इस अवसर पर बलविंद्र बबलू, सुरेश कुमार, हमीरपुर ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश पटियाल, अनिल वर्मा, अजय शर्मा, बी.सी. लगवाल, बाबूराम राही, राजेश चौधरी आदि सहित जिला के ब्लाक कांग्रेस

कमेटी के कई पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे। धर्मशाला (निस) : पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हुई वृद्धि को लेकर सोमवार को धर्मशाला में जिला कांगड़ा कांग्रेस कमेटी के सदस्यों ने जिलाधीश कांगड़ा के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया। जिला कांग्रेस कमेटी कांगड़ा के अध्यक्ष अजय महाजन की अध्यक्षता में सौंपे गए ज्ञाापन के माध्यम से राष्ट्रपति से इस वृद्धि को वापस लेने की मांग की गई। इस दौरान पूर्व राज्यसभा सांसद विप्लव ठाकुर, विधायक पवन काजल, आशीष बुटेल, पूर्व विधायक किशोरी लाल, यादवेंद्र सिंह गोमा, जगजीवन पाल, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता जितेंद्र शर्मा, प्रदेश कांग्रेस महासचिव देवेंद्र जग्गी, रघुवीर सिंह बाली, केवल सिंह पठानिया, अध्यक्ष युवा कांग्रेस कांगड़ा-चंबा संसदीय क्षेत्र विजय इंद्रकरण सहित कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All