घर में सुख-समृद्धि की हरियाली

मदन गुप्ता सपाटू पैसे भले पेड़ों पर नहीं लगते, लेकिन पेड़-पौधे घर में सुख-समृद्धि और बरकत लाने का जरिया जरूर बन सकते हैं। घर में बरकत लाने के लिए अक्सर लोग तुलसी या मनी प्लांट का पौधा लगाते हैं। लेकिन, वास्तु और फेंगशुई में इनके अलावा भी कई पौधों को सौभाग्य बढ़ाने वाला माना गया है। 0 अनार का पौधा घर में लगाने से कर्जे से मुक्ति मिलती है। घर में समृद्धि आती है। 0 हल्दी का पौधा लगाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा नहीं आती, इसलिए इस पौधे को घर में जरूर लगाना चाहिए। 0 लताओं वाले पौधों को प्रवेश द्वार या बालकनी में लगा सकते हैं, लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि लताएं कंपाउंड की दीवार से ऊंची न चली जाएं। 0 बच्चों की बुद्धि तेज न हो या घर में पैसा न रुकता हो, तो अशोक का वृक्ष लगाएं। 0 घर में गेंदा लगाने से बृहस्पति मजबूत होता है और वैवाहिक जीवन सुखमय रहता है। 0 आंवले का पौधा लगाने से घर में बीमारियां नहीं आतीं। 0 मनी प्लांट से समृद्धि बढ़ती है। इसे आग्नेय दिशा में लगाना उचित माना गया है। इस दिशा के देवता गणेशजी हैं, जबकि प्रतिनि‍धि शुक्र हैं। 0 लक्ष्मणा का पौधा भी धनलक्ष्मी को आकर्षित करने में सक्षम है। घर में किसी भी बड़े गमले में इसे उगाया जा सकता है। कहते हैं कि जिस किसी के भी घर में सफेद पलाश और लक्ष्मणा का पौधा होता है, वहां बरकत होनी शुरू हो जाती है। 0 घर की चारदीवारी में केले का वृक्ष लगाना शुभ माना जाता है। बृहस्पति ग्रह का कारक होने के कारण इसे ईशान कोण में लगाना शुभ है। भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी को केले का भोग लगाया जाता है। 0 तुलसी का पौधा घर के मुख्य द्वार पर लगाया जा सकता है। पहले तुलसी का पौधा घर के मध्य स्थान में लगाया जाता था, लेकिन आजकल वैसी जगह घरों में नहीं होती। 0 अश्वगंधा का पौधा लगाने से सुख, समृद्धि की प्राप्ति होती है। इस आयुर्वेदिक औषधि के कई लाभ हैं। 0 कनेर के पौधे को देवी लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। देवी लक्ष्मी को सफेद कनेर के फूल चढ़ाए जाते हैं। पीले रंग के फूल भगवान विष्णु को प्रिय होते हैं। 0 श्वेतार्क दूधवाला पौधा होता है, जो गणपति का प्रतीक है। वास्तु अनुसार दूध से युक्त पौधों का घर की सीमा में होना अशुभ होता है, किंतु श्वेतार्क इसका अपवाद है, जिसे घर के समीप उगा सकते हैं। इससे घर में सुख, शांति और बरकत बनी रहती है। 0 श्वेत अपराजिता धनलक्ष्मी को आकर्षित करने में सक्षम है। संस्कृत में इसे आस्फोता, विष्णुकांता, विष्णुप्रिया, गिरीकर्णी, अश्वखुरा कहते हैं। श्वेत और नीले दोनों प्रकार की अपराजिता औषधीय गुणों से भरपूर है। 0 हरसिंगार जिस भी घर-आंगन में होता है, वहां हमेशा शांति-समृद्धि बनी रहती है। इसके फूल तनाव हटाकर खुशियां लाने की क्षमता रखते हैं। 0 चमेली का पौध घर में प्यार और पैसे को आकर्षित करता है। 0 नींबू का पेड़ लगाने से घर में खुशियां आती हैं। यह दोस्ती और शुद्धता को दर्शाता है। 0 घर में बांस के पौधे लगा सकते हैं। कांच के जार में छोटे आकार के बांस के पौधों को लाल धागे में बांधकर दुकान, प्रतिष्ठान के ईशान या उत्तरी दिशा में रखने से आर्थिक प्रगति होने लगती है। 0 ऑफिस की सकारात्मक ऊर्जा बढ़ाने के लिए गुलदस्तों में रोज ताजे फूल लगाएं। फूलों के गुलदस्ते सौभाग्य में वृद्धि करते हैं। मुरझाए फूल व पत्तियां नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करती हैं। इसलिए फूलों को बासी होते ही बदल देना चाहिए। 0 आजकल बोनसाई पौधे लगाने का चलन है, लेकिन बोनसाई का पौधा घर में नहीं लगाना चाहिए। वास्तु शास्त्र के अनुसार बोनसाई, घर में रहने वाले सदस्यों का आर्थिक विकास रोकते हैं। 0 खुशबूदार फूल वाले पौधे जैसे- चंपा, नागचंपा, चमेली, बेला, रात की रानी लगाए जा सकते हैं, लेकिन इन्हें घर के बाहर ही लगाएं। 0 क्रसुला ओवाटा धन को आकर्षित करता है। फेंगशुई के अनुसार क्रसुला अच्छी-ऊर्जा की तरह धन को भी घर की ओर खींचता है। इसे जेड प्लांट, फ्रेंडशिप ट्री, लकी प्लांट या मनी प्लांट भी कहते हैं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All