खास हो पहला इंप्रेशन

शिष्टाचार

दीप्ति अंगरीश पहला इंप्रेशन वाकई बहुत खास होता है। चाहे खेमा व्यक्तिगत हो या व्यापारिक। किसी को भी पहली नजर में देखते ही काफी कुछ उसकी पर्सनैलिटी के बारे में मालूम चलता है। यह हमेशा सटीक हो, ये जरूरी नहीं है, पर व्यक्ति के मानसपटल में एक धारणा का बीज रोप देता है। फिर उसी बीज रूपी धारणा से फलीभूत पौधा ही सामने वाले को आंकने का नज़रिया बनता है। आपके द्वारा कियागया सभ्य आचरण इश इंप्रेशन को खास बनाता है। बात यदि व्यापारिक करें तो पहला इंप्रेशन ही मुनाफा दिलाता है या उससे कोसों दूर कर देता हैै। जानते हैं पहले इंप्रेशन के कारगर टिप्स। ग्रूमिंग पर ध्यान पहली बार किसी से मिल रहे हैं तो पहनावे के अलावा ग्रूमिंग पर भी तवज्जो दें। इससे आपकी पर्सनैलिटी तो निखरेगी ही, साथ ही सामने वाले को लगेगा कि आप मीटिंग के लिए गंभीर हैं। सोचिए आप बिना शेव करवाए, आंख-नाक साफ किए या ओवर फेशियल हेयर्स के साथ लोगों से मिलेंगे तो क्या होगा। जवाब होगा दूरी। लोगों को भी घिन्न आती है आपकी तरह। फिर चाहे मुलाकात पहली हो या पुरानी। सफलता के लिए ड्रेसिंग पहली मुलाकात में कपड़ों का खास महत्व होता है। आत्मविश्वास जगाती ड्रेस पहनने से आप गंभीर, सफल और आत्मविश्वासी दिखेंगे। साथ ही ऐसे पहनावे से सामने वाला गंभीरता से आपकी बात सुनेगा। यही वजह है कि कुछ कंपनियों में स्पेशल मीटिंग ड्रेस कोड निधार्रित होता है। यदि ऐसा नहीं है तब पहली मुलाकात में पहनावे पर खास ध्यान दें। इसके लिए सर्च इंजन या करीबी दोस्त की सहायता लें। याद रहे कपड़े भड़काऊ और असहज महसूस करवाने वाले नहीं हों। बाॅडी लैंग्वेज को तवज्जो बिना बोले भी बहुत कुछ बोलती है बाॅडी लैंग्वेज। पहली मुलाकात में इसका खास ध्यान रखें। मसलन आप निढाल बैठे हैं और दोनों हाथ कसकर एक के ऊपर सटाए हैं, तो इससे सामने वाले को लगेगा कि आप उसमें कोई दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। चाहे बैठे हों या खड़े, सीधी कमर और पीछे की तरफ कंधे इंगित करते हैं कि आप उत्साही और आत्मविश्वासी हैं। किसी की बात सुनते समय कमर सीधी रखें, कंधे पीछे की तरफ और हाथ अपनी तरफ रखें और आंखों से संपर्क बनाए रखें। यह दर्शाता है कि आप पूरी तरह से दूसरे व्यक्ति पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। अभिवादन भी ज़रूरी पहली मुलाकात में ड्रेस, ग्रूमिंग, बाॅडी लैंग्वेज के अलावा ग्रीटिंग (अभिवादन) पर भी तवज्जो दें। ग्रीटिंग असली गहना है, जो हमेशा चमकता है और अमिट छाप छोड़ता है। पहली मीटिंग में अभिवादन के कुछ शिष्टाचार बातचीत में शुमार करें, जैसे- गुड माॅर्निंग कहना, हैंड शेक करना, आई काॅन्टेक्ट बनाना, मुस्कुराते हुए बोलना, अपना नाम बताना और दूसरे का जानना आदि। बातचीत शिष्टाचार सामने वाले से बातचीत के समय ध्यान रखें कि आप सिर्फ बोलें ही नहीं, सुनें भी। बातचीत में अच्छे श्रोता भी बनें। साथ ही आंखों से संपर्क भी बनाएं। आप साफ-साफ बोलें। बोलने की लय न तेज़ हो, न धीमी। इन बातों से आपमें आत्मविश्वास झलकेगा। कुछ और नियम यदि आप किसी से मिलने के लिए उसके कार्यालय में जा रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि कार्यालय में आप रिसेप्शनिस्ट, लिफ्टमैन, गार्ड, चपरासी, कर्मचारी आदि का अभिवादन करें। इन नियमों से आपकी छवि अच्छी बनेगी। यानी बिजनेस मिलने की पूरी संभावना होगी।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

मुख्य समाचार

कोविड-19 का टीका बनाने में रूस ने मारी बाज़ी!

कोविड-19 का टीका बनाने में रूस ने मारी बाज़ी!

राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को की घोषणा, अपनी बे...

सुशांत आत्महत्या मामला : रिया की केस ट्रांसफर की याचिका पर फैसला सुरक्षित

सुशांत आत्महत्या मामला : रिया की केस ट्रांसफर की याचिका पर फैसला सुरक्षित

सुप्रीमकोर्ट ने सभी पक्षों से बृहस्पतिवार तक लिखित में मांगे...

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सही दिशा में बढ़ रहा है देश : मोदी

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सही दिशा में बढ़ रहा है देश : मोदी

प्रधानमंत्री ने 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की कोरोना पर...

शहर

View All