किन्नौर की डॉ. आयुषी नेगी का एम्स की एमडी/एमएस परीक्षा में चौथा स्थान!

प्रेम राज काश्यप/निस रामपुर बुशहर, 14 जुलाई हिमाचल प्रदेश के जिला किन्नौर की डॉक्टर आयुषी नेगी ने अपनी विलक्षण प्रतिभा और कठिन परिश्रम से पूरे देश में किन्नौर ज़िले और हिमाचल का नाम ऊंचा किया है। डाॅक्टर आयुषी नेगी ने आयुर्विज्ञान संस्थान दिल्ली {एम्स} के स्नातकोत्तर 2020 ,एम डी /एमएस की परीक्षा में अनुसूचित जनजाति वर्ग में पूरे भारतवर्ष में चौथा स्थान हासिल किया है। यही नहीं उन्होंने स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संसथान चंडीगढ़ पीजीआई एमईआर की एमडी /एमएस की परीक्षा में भी पूरे भारतवर्ष में अनुसूचित जनजाति वर्ग में 7वां स्थान हासिल कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। डॉ. आयुषी नेगी मूल रूप से किन्नौर जिला के पूह उपमंडल के सुन्नम गांव की रहने वाली है। उनके पिता दिनेश कुमार नेगी हाल ही में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग से अधीक्षण अभियंता के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं जबकि माता आशा नेगी वर्तमान में बतौर हिंदी प्रवक्ता राजकीय उच्च विद्यालय झाकड़ी में सेवारत है। डॉ आयुषी ने जमा दो की पढ़ाई दिल्ली पब्लिक स्कूल, झाकड़ी से की व उसी वर्ष एमबीबीएस नीट की परीक्षा में हिमाचल प्रदेश में अनुसूचित जनजाति की श्रेणी में चौथा स्थान प्राप्त कर किया था। इसी साल ऑल इंडिया लेवल में भी एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए उनका चयन लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज दिल्ली में हुई। उन्होंने एमबीबीएस की पढ़ाई दिसंबर 2019 में पूरी की है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All