कांग्रेस, झामुमो करते हैं सिर्फ छल और स्वार्थ की राजनीति

जमशेदपुर में मंगलवार को एक चुनाव रैली के दौरान समर्थकों का अभिवादन करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। -प्रेट्र

खूंटी (झारखंड), 3 दिसंबर (एजेंसी) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस और झामुमो सिर्फ छल और स्वार्थ की राजनीति करते हैं जबकि भाजपा अनुच्छेद 370 एवं राम जन्मभूमि जैसे लंबे समय से अटकायी गयी राष्ट्रीय समस्याओं के समाधान के संकल्प के साथ देश की सेवा कर रही है। मोदी ने यहां झारखंड विधानसभा चुनावों के दूसरे चरण की 20 सीटों के लिए चुनाव प्रचार के दौरान एक रैली में कहा, ‘झारखंड और उसके साथ देश यह भली भांति जानता है कि कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा की राजनीति छल और स्वार्थ की राजनीति है जबकि भाजपा कर्म और सेवा भाव की राजनीति करती है।’ मोदी ने कहा, ‘धर्म, जाति या पंथ के भेद के बिना हम सभी झारखंडवासियों के लिए काम कर रहे हैं।’ आज झारखंड में 40 मेगावाट सौर उर्जा पैदा हो रही है। रांची के गैतल सूद बांध और धुर्वा बांध में देश के सबसे बड़े तैरते सोलर पैनल बनने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘कांग्रेस और उसके साथियों से सावधान रहने की जरूरत है, उनका इतिहास, उनके कारनामे आपको याद हैं। उनकी नजर सिर्फ और सिर्फ यहां की प्राकृतिक संपदा पर है और अगर वह आये तो फिर से झारखंड को लूटना यही उनका एजेंडा है। ये लोग सत्ता में वापसी के लिए इतना छटपटा रहे हैं कि आपके बीच झूठ फैला रहे हैं, डर और भ्रम फैला रहे हैं। ये नहीं चाहते कि यहां उद्योग लगे। यहां बजट में बढोतरी हो।’ उन्होंने कहा,‘उनको पता है कि अगर ऐसा हुआ तो गरीबों के पास पैसा आने लगेगा जिससे कांग्रेस, झामुमो नेताओं की कोई पूछ नहीं रहेगी, उनकी कोई कीमत नहीं रहेगी।’ ‘जनता ने मोदी को कठोर निर्णय लेने के लिए भेजा है’ जमशेदपुर (एजेंसी) : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों की सरकारों पर अनिर्णय की स्थिति पैदा करने और देश के लिए महत्वपूर्ण मसलों को लटकाये रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि देश की जनता ने उन्हें कठोर निर्णय लेने के लिए चुनकर भेजा है और वह देश हित में बड़े फैसले ले रहे हैं। मोदी ने चुनावी रैली में कहा, ‘आजादी के बाद से हिंदुस्तान के हर कोने में जम्मू-कश्मीर और 370 की चर्चा चल रही थी। संविधान में 370 को अस्थायी लिखा था, लेकिन एक टोली उसे स्थायी बनाने में जुटी थी, कोई उसे हाथ लगाने को तैयार नहीं था, लेकिन देश की जनता ने मोदी को कठोर निर्णय लेने के लिए भेजा। मैं राजनीति के हिसाब-किताब नहीं करता हूं मैं सिर्फ देशनीति को देखता हूं। इसलिए दशकों से लटका 370 खत्म हो सका।'

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All