कमांडेंट समेत 5 अधिकारी गिरफ्तार

नोएडा, 20 नवंबर (एजेंसी) गौतमबुद्ध नगर जिले में होमगार्डों की ड्यूटी लगाने के मामले में हुए करोड़ों रुपये के घोटाले के संबंध में नोएडा पुलिस की अपराध शाखा ने होमगार्ड विभाग के पांच अधिकारियों को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। गौतमबुद्ध नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने बताया कि ऐसा पता चला था कि ड्यूटी से नदारद रहने वाले होमगार्डों की फर्जी तरीके से हाजिरी लगाकर होमगार्ड विभाग के अधिकारियों ने करोड़ों रुपये का घोटाला किया है। इस मामले में उनके स्तर से एक जांच करा कर रिपोर्ट शासन को भेजी गई थी। शासन ने भी जांच के लिए 4 सदस्यीय कमेटी बनाई थी। जांच जारी थी कि कल 18 नवंबर की रात को जिला कलेक्टर स्थित जिला होमगार्ड कमांडेंट के कार्यालय में आग लग गई जिससे घोटाले से संबंधित दस्तावेज नष्ट हो गए। एसएसपी के अनुसार मामले की जांच कर रही अपराध शाखा ने वर्तमान संभागीय कमांडेंट एचजी राम नारायण चौरसिया, असिस्टेंट कंपनी कमांडर सतीश, प्लाटून कमांडर मोंटू तथा सतवीर और शैलेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है। ऐसे होती थी गड़बड़ी पूछताछ में पता चला है कि ड्यूटी से गैरहाजिर रहने वाले होमगार्डों के मस्टररोल में हेरफेर कर उनका पूरा वेतन बैंक से निकाल लिया जाता था। थानों के जीडी के हिसाब से जितने दिन होमगार्डों की तैनाती होती थी, उतने दिन की हाजिरी थाना प्रभारी द्वारा मस्टररोल में प्रमाणित करके दी जाती थी। जांच के दौरान पता चला कि होमगार्डों के फर्जी तरीके से निकाले गए वेतन का एक बड़ा हिस्सा अधिकारी रख लेते थे, तथा कुछ हिस्सा उन होमगार्डों को भी दिया जाता था, जिनकी फर्जी उपस्थिति दिखाकर पैसा निकाला जाता था। फॉरेंसिक टीम ने शुरू की जांच नोएडा : गौतमबुद्ध नगर में होमगार्ड ड्यूटी में हुए करोड़ों के घोटाला मामले में 18 नवंबर की रात को अहम दस्तावेज जलने की घटना की जांच के लिए गुजरात से फॉरेंसिक विभाग की 2 सदस्यीय टीम बुधवार को ग्रेटर नोएडा पहुंची। एसपी ग्रामीण रणविजय सिंह ने बताया कि यह टीम जिला कमांडेंट होमगार्ड के कार्यालय में हुई आगजनी की घटना की जांच कर रही है। घोटाले के अहम दस्तावेज 18 नवंबर की रात जला दिए गए थे। जांच के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने गुजरात से फॉरेंसिक टीम को बुलाया है। एसपी ने बताया कि टीम घटनास्थल पर वैज्ञानिक विधि से जांच कर रही है। होमगार्ड कार्यालय में जिस बक्से में आग लगी है, उसमें वर्ष 2014 से अब तक के होमगार्डों के ड्यूटी के मस्टररोल व भुगतान के दस्तावेज थे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All