उद्योगपतियों ने मांगी हर रोज उद्योगों में आने की इजाजत

बीबीएन, 22मई (निस ) लॉकडाउन के चलते चंडीगढ़, पंजकूला व मोहाली में रह रहे उद्येागपति अपने उद्योगों में मात्र दो दिन ही आ सकते हैं जिसके चलते उनका व्यापार प्रभावित हो रहा है। यह बात हिमाचल प्रदेश दवा उत्पादक संघ के सदस्य वीके उप्पल ने कही। उप्पल का कहना है कि पंजाब, चंडीगढ़ व हरियाणा में उद्योगपति हर रोज अपना काम कर रहे हैं परन्तु चंडीगढ़, पंचकूला व दिल्ली रहने वाले उद्येागपति अपने कार्यस्थल पर मात्र दो दिन ही आ पाते हैं जिसके चलते उनका उत्पादन प्रभावित हो रहा है क्योंकि उनके कर्मचारी व लेबर अच्छे तरीके से काम नहीं कर पाते। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने उन्हें 40 से 50 प्रतिशत लेबर से काम चलाने के निर्देश दिए हैं व सोशल डिस्टेंसिंग, आने-जाने के लिए गाड़ी व खाना समेत सभी सुविधाएं देने की शर्त है। दवा उद्योगों में स्वच्छता की दृष्टि से खासा ध्यान रखना पड़ता है। अगर मालिक स्वयं उद्योग में रहे तो सारी चींजें हो सकती हैं परन्तु लेबर पीछे से अगर लापरवाही करती है तो इसका हर्जाना मालिक को भुगतना पड़ेगा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

नमो गंगे तरंगे पापहारी...

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

स्वतंत्रता के संकल्प की बलिदानी गाथा

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

बुलंद इरादों से हासिल अपना आकाश

समाज की सोच भी बदलना जरूरी

समाज की सोच भी बदलना जरूरी