अंतरराष्ट्रीय स्तर के छह हॉकी स्टेडियम बनाये जायेंगे : सुखबीर

नरेंद्र मोहन

होशियारपुर, 11 मई। हॉकी में पंजाबी युवकों की रुचि को देखते हुए राज्य में आधुनिक अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं वाले छह हॉकी के स्टेडियम बनाए जाएंगे। इन स्टेडियमों में रात को होने वाले मैचों के लिए फ्लड लाइटों का प्रबंध किया जाएगा। यह विचार पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने होशियारपुर में एक जनसमूह को संबोधित करते हुए प्रगट किए। इससे पहले उन्होंने करीब 15 करोड़ की लागत से टांडा में बने ओवर ब्रिज व साढ़े पांच करोड़ की लागत से बने भगवान महावीर सेतु व साढ़े 9 करोड़ की लागत से नवनिर्मित भगवान वाल्मीकि अंतरराज्यीय बस स्टेंड का उद्घाटन कर लोगों को समर्पित किया। यहां उल्लेखनीय है कि होशियारपुर बस स्टेंड का पहले कांग्रेस लोकसभा सांसद श्रीमती संतोष चौधरी व टांडा स्थित ओवर ब्रिज का उद्घाटन टांडा के विधायक संगत सिंह गिलजियां ने किया था। उन्होंने कहा कि भारत की सीनियर व जूनियर हॉकी टीम में अधिकतर पंजाबी युवक हैं। इसके लिए प्रदेश में हॉकी को और मजबूत करने के लिए स्टेडियम बनाए जा रहे हैं। इसके उपरांत अंतरराष्ट्रीय पंजाब हॉकी कप करवाया जाएगा, जिसमें आठ से ज्यादा विदेशी टीमों को भी आमंत्रित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके अलावा पंजाब में आठ और स्टेडियम बनाए जा रहे हैं, जिसमें से एक स्टेडियम होशियारपुर में भी बनाया जाएगा। यह सभी स्टेडियम अंतरराष्ट्रीय स्तर के होंगे। उक्त स्टेडियमों में 40 से 50 हजार दर्शकों के बैठने की व्यवस्था होगी। बिजली की कमी को दूर करने के लिए प्रदेश में चार थर्मल प्लांट लगाए जा रहे हैं इनमें से गोविंदवाल साहिब, तलवंडी साबो व राजपुरा में काम शुरू कर दिया गया है, जबकि गिदड़बाहा थर्मल प्लांट पर भी काम शीघ्र ही शुरू करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उक्त थर्मल प्लांट शुरू होने के बाद प्रदेश सरप्लस बिजली वाला राज्य बन जाएगा और कम से कम आगामी 25 वर्षों तक 24 घंटे बिजली की सुविधा प्रदेशवासियों को मिलेगी।  उन्होंने कहा कि मोहाली में बन रहा अंतरराष्ट्रीय स्तर का हवाई अड्डे से इसी वर्ष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू हो जाएंगी। इसके अलावा माछीवाड़ा में भी बनने वाले हवाई अड्डे का कार्य शीघ्र ही शुरू कर दिया जाएगा। लुधियाना में बने हवाई अड्डे से 13 मई को पहली उड़ान दिल्ली के लिए रवाना की जाएगी। इस दौरान उन्होंने स्थानीय विधायक व वन मंत्री तीक्ष्ण सूद की मांगों को पूरा करते हुए ज्युडिशियल कांप्लेक्स बनाने व 75 लाख रूपये की लागत से लगने वाले 5 ट्यूबवेल व इंडोर स्टेडियम की मरम्मत के लिए 15 लाख रूपये देने की घोषणा की और कहा कि शहरी विकास के लिए राज्य सरकार 2000 करोड़ रूपये खर्च कर रही है। इससे पहले समारोह को संबोधित करते हुए लोक निर्माण मंत्री परमिंदर सिंह ढींढसा ने कहा कि प्रदेश में 3 हजार करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले नए प्रोजेक्टों को सरकार की ओर से मंजूरी दे दी गई है। 10 ओवर रेलवे ब्रिज बनकर तैयार हो गए हैं, जबकि 14 अंतिम चरण में हैं और अन्य 14 रेलवे ओवर ब्रिजों पर इसी वर्ष कार्य शुरू कर दिया जाएगा। परिवहन मंत्री मास्टर मोहन लाल ने भी समारोह को संबोधित किया और परिवहन विभाग द्वारा दी जा रही सेवाओं संबंधी विस्तारपूर्वक जानकारी दी। वन मंत्री तीक्ष्ण सूद ने समारोह को संबोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री का धन्यवाद किया और इलाके की समस्याओं संबंधी उन्हें अवगत करवाया। समारोह को अन्य के अलावा शिअद नेता बलविंदर सिंह भूंदड़, मुख्य संसदीय सचिव बीबी महिंदर कौर जोश, सोहन सिंह ठंडल, देसराज सिंह धुग्गा, शिअद के जिलाध्यक्ष सुरिंदर सिंह भुल्लेवाल राठां, भाजपा जिलाध्यक्ष जगतार सिंह सैनी आदि ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर यूथ अकाली नेता जतिंदर सिंह लाली बाजवा, राणा रणवीर, सतिंदर पाल सिंह ढट्ट, अवतार सिंह जौहल, विजय दानव, के अलावा भाजपा—अकाली दल के पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित थे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All