हिमाचल में किस्मत आजमाएं, आपको जरूर फायदा होगा

धर्मशाला में बृहस्पतिवार को ग्लोबल इनवेस्टर मीट में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवानी करते मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर। साथ में है राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय। -प्रेट

धर्मशाला, 7 नवंबर (निस) प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने हिमाचल में निवेश अ‍ाकर्षित करने के लिए प्रदेश सरकार के प्रयासों को सराहा है। धर्मशाला में बृहस्पतिवार को 'ग्‍लोबल इनवेस्‍टर मीट' को संबोधित करते करते हुए मोदी ने कहा कि हिमाचल में भी अब स्थितियां बदल रही हैं जिसका गवाह यह सम्मेलन है। देश में निवेश की नयी होड़ लगी है, चूंकि अब राज्य सरकारें भी समझने लगी हैं कि रियायतें ही प्रदेश का भला नहीं कर पाती हैं। मोदी ने कहा कि हिमाचल के लोगों, उनकी क्षमता तथा यहां नीतिगत सफाई बहुत बड़े परिवर्तन का माध्यम बनेगी। जब आप यहां के युवाओं को अधिक से अधिक अवसर देंगे, उनकी क्षमता का उपयोग करेंगे, तो यह लाभ कई गुना बढ़ जाएगा। हिमाचल प्रदेश का कोई परिवार ऐसा नहीं है जो सैन्य बल से न जुड़ा हो। रिटायर्ड फौजियों के तौर पर हिमाचल के पास बड़ी कुशलता है। अनेक भाषा बोलने वाले लोग हर गांव में मिलेंगे। निवेश के लिए मैनपावर हिमाचल में है। इस मौके पर मोदी बोले-मैं यहां मेहमान नहीं, एक तरह का हिमाचली हूं और आप सब मेरे मेहमान हैं। आप हिमाचल की धरती पर किस्मत आजमाएं, आपको जरूर फायदा होगा। आप आगे बढ़ेंगे तो प्रदेश और देश आगे बढ़ेगा। प्रधानमंत्री ने कहा-इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिले, हर जगह जाकर खड़ा न होना पड़े, यह व्यवस्था लाई जा रही है। पारंपरिक अंदाज में स्वागत कार्यक्रम से पूर्व हिमाचल की ब्रांड अम्बेस्डर यामी गौतम ने नरेंद्र मोदी का हिमाचल टोपी और मफलर पहनाकर पारंपरिक अंदाज में स्वागत किया। इस मौके पर राज्यपाल के अलावा केंद्रीय मंत्री, अनुराग ठाकुर और सांसद तथा विधायक और बड़ी संख्या में उद्योगपति उपस्थित रहे और उन्होंने हिमाचल में निवेश के लिए अपना अपना पक्ष रखा। इस मीट में 11 विदेशी अम्बेस्डर और यूएई का एक बड़ा प्रतिनिधिमंडल भी भाग ले रहा है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश