राकांपा के 4 विधायकों को 'छुड़ाकर' ले गये मुंबई

गुरुग्राम के एक होटल से राकांपा के 4 विधायकों को लेकर नयी दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचे धीरज शर्मा और सोनिया दूहन। -हप्र

नवीन पांचाल/हप्र गुरुग्राम, 25 नवंबर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के 4 विधायकों को सोमवार को गुरुग्राम के एक होटल से 'मुक्त करवाकर' मुुंबई ले जाया गया। शिवसेना और राकांपा नेताओं ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र के इन विधायकों को भाजपा नेताओं ने छिपाया था। कई घंटे चले इस हाई वोल्टेज ड्रामे में जिन भाजपा नेताओं का नाम लिया जा रहा है, उन्होंने इसकी जानकारी होने से भी इनकार किया। जानकारी के अनुसार राकांपा के विधायक अनिल पाटिल, दौलत दरोडा, नितिन पवार और नरहरि झिरवन को गुरुग्राम के किंगडम आॅफ ड्रीम्स में देखे जाने की सूचना के बाद शिवसैनिकों ने जब इनका पीछा किया तो होटल आेबरॉय में इनके ठहरे हुए होेने की बात सामने आई। शिवसेना के जिलाध्यक्ष रितुराज और दिल्ली से आए अशोक कपिल विधायकों की टोह लेने होटल में पहुंचे। बकौल रितुराज, ‘होटल में मौजूद भाजपा नेता जवाहर यादव ने हमें पहचान लिया। उन्होंने अपने बाउंसरों और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को बुलाकर हमें भागने पर मजबूर कर दिया। पुलिस और बाउंसरों की कई गाड़ियां हमारे पीछे लगा दी गईं, लेकिन हम बचने में कामयाब हो गए।’ इसी बीच राकांपा की युवा इकाई के राष्ट्रीय अध्यक्ष धीरज शर्मा और सोनिया दूहन होटल पहुंचे। सूत्र बताते हैं कि उन्हें भी रोकने की व्यवस्था की गई थी, लेकिन जब तक यहां मौजूद लोग कुछ समझ पाते, दोनों युवा नेता विधायकों के बीच जाकर बैठ गए। धीरज शर्मा ने बताया, ‘भाजपा के कई नेता भारी पुलिसबल के साथ होटल में मौजूद थे और उन्होंने चारों विधायकों को बंधक बनाकर पांचवें फ्लोर पर रोका हुआ था।’ उन्होंने कहा कि विधायकों ने उन्हें आपबीती सुनाई, जिसके बाद चारों को दिल्ली एयरपोर्ट से मुंबई ले जाया गया।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें