पेट्रोल-डीजल में आग, भड़की कांग्रेस

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के खिलाफ सोमवार को कांग्रेस ने पूरे देश में जगह-जगह प्रदर्शन किये और लगातार की जा रही इस वृद्धि को तत्काल वापस लेने के साथ-साथ पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग की। पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बढ़ोतरी को ‘अन्यायपूर्ण’ करार दिया और कहा कि महामारी के बीच इस वृद्धि को तत्काल वापस लेकर देश की जनता को राहत प्रदान किये जाने की बहुत जरूरत है। उनके साथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी कांग्रेस की ओर से सोशल मीडिया में चलाए गए ‘स्पीक अप अगेंस्ट फ्यूल हाइक’ के तहत वीडियो संदेश जारी किए। पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन करके संबंधित जिला प्रशासनों को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भी सौंपे। भारतीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी की अगुवाई में संगठन के कार्यकर्ताओं ने बैलगाड़ी के साथ जुलूस निकालकर पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का विरोध किया। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के मुताबिक सोमवार को पेट्रोल के दाम में 5 पैसे प्रति लीटर और डीजल के दाम में 13 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई। इस वृद्धि के बाद दिल्ली में पेट्रोल का दाम 80.38 रुपये से बढ़कर 80.43 रुपये प्रति लीटर और डीजल का दाम 80.40 रुपये से बढ़कर 80.53 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। -नयी दिल्ली/एजेंसी

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

शहर

View All